Ladli Behna Yojana: 1.32 करोड़ से 1.29 करोड़ ही रह गई लाड़ली बहनों की संख्या, नई सूची में अपना नाम देखें

लाडली बहना योजना की करोड़ों लाभार्थियों को एक बार फिर उपहार मिलने वाला है, क्योंकि फिर 10 तारीख नजदीक आ रही है। जैसा कि आप जानते हैं हर महीने की 10 तारीख को प्रदेश की लाडली बहनों को मध्य प्रदेश सरकार द्वारा लाडली बहना योजना की राशि 1250 रुपए उनके डीबीटी बैंक अकाउंट में उपलब्ध कराई जाती है। इस बार भी लाडली बहनों को 10 फरवरी को नवीं किस्त की राशि से अवगत कराया जाएगा। 

मध्य प्रदेश में लाडली बहन योजना का बोर्ड वाला अभी भी पहले की तरह बरकरार है लाडली बहन योजना की शुरुआत तो पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा की गई थी लेकिन अब इसकी कमान प्रदेश के नए मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव के हाथों में आ गई है कम डॉक्टर मोहन यादव के नेतृत्व में ही लाडली बहन योजना की आठवीं किस्त प्रदेश की 1.29 करोड़ महिलाओं के अकाउंट में डाली गई थी। 

अब लाडली बहना योजना की अगली नवीं किस्त भी इस महीने लाभार्थियों को उपलब्ध कराई जाएगी, लेकिन इस बार भी लाडली बहना लाभार्थियों की सूची में बदलाव किए गए हैं, वह बदलाव कौन से हैं उसको जानने के लिए आपको इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ना होगा, क्योंकि इस आर्टिकल में हमने बताया है कि महिलाओं को योजना से बाहर क्यों किया गया और महिलाएं पात्रता सूची में नाम कैसे चेक कर सकती हैं। 

इन महिलाओं के नाम का काटे गए लिस्ट से 

लाडली बहना योजना का लाभ प्रदेश की महिलाओं को निरंतर 5 सालों तक उपलब्ध कराया जाएगा इस बात की पुष्टि खुद CM डॉ मोहन यादव ने की है, लेकिन जैसा कि आप सब जानते हैं लाडली बहना योजना की आठवीं किस्त की राशि ट्रांसफर होने के दौरान तकरीबन 3 लाख लाभार्थी महिलाओं के नाम योजना से बाहर कर दिए गए थे, ठीक उसी तरह इस बार नवीं किस्त के दौरान भी कई महिलाओं के नाम लाभार्थियों की सूची से काटे जाने की खबरें मिल रही है। संभव है कि अपात्र महिलाएं योजना से बाहर कर दी जाए। 

इस तरह चेक करें नई सूची में अपना नाम 

नई सूची में अपना नाम चेक करने के लिए आपको लाडली बहना योजना की ऑफिशल वेबसाइट  https://cmladlibahna.mp.gov.in  पर जाना होगा। अब वेबसाइट के होम पेज पर आपको मेनू के ऑप्शन पर जाने पर अंतिम सूची का विकल्प दिखाई देगा उस पर क्लिक करें। 

अब आपको अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर दर्ज करने का विकल्प प्राप्त होगा जिसको  डालते हुए कैप्चा दर्ज करें। अब आपको अपने जिले का चयन करते हुए अपने राज्य की और निवास की जानकारी दर्ज करनी होगी। सारी प्रक्रिया को फॉलो करने के बाद आपको अपने मोबाइल स्क्रीन पर लाडली बहना लाभार्थियों की अंतिम पात्रता सूची प्राप्त होगी, उसमें अपना नाम सुनिश्चित करें। 

इसे भी पढ़ें –  मध्यप्रदेश सरकार ने जारी की हजारों पदों पर वेकेंसी, अगले 1 साल में 90 हजार युवाओं को मिलेगा रोजगार

1.32 करोड़ से 1.29 करोड़ ही रह गई लाभार्थियों की संख्या 

लाडली बहना योजना के तहत योजना के आरंभ होने से लेकर सातवीं किस्त की राशि ट्रांसफर होने तक प्रदेश में लाभार्थियों की संख्या 1.32 करोड़ थी, लेकिन प्रदेश में नई सरकार के गठन के बाद से हितग्राहियों की संख्या घटकर 1.29 करोड़ ही रह गई। महिलाओं के नाम सूची से हटने का मुख्य कारण यह है कि कई महिलाओं ने धोखाधड़ी से आवेदन करके निरंतर योजना का लाभ उठाया था जिसको अब विभागीय जांच के दौरान योजना से अपात्र कर दिया गया है। 

Author

  • Karan Sharma

    मेरा नाम करण है और मैं apnakal.com वेबसाइट के लिए आर्टिकल लिखता हूं। हिंदी लिखने का मेरा जुनून है जो मुझे सब कुछ के बारे में लिखने के लिए प्रेरित करता है।

    View all posts

Leave a Comment

Your Website