सरकारी स्कूलों में दी जायगी स्टार्स प्रोजेक्ट किट, शिक्षा विभाग दे रहा है पहली और दूसरी कक्षा के छात्रों को उपहार

प्राइमरी कक्षा में छात्रों के बीच शिक्षा में गुणवत्ता लाने के लिए शिक्षा विभाग ने एक अहम कदम उठाया है। दरअसल अभी हाल ही में शिक्षा विभाग में पहली और दूसरी कक्षा के छात्रों में गणित कौशल को मजबूत बनाने के लिए मैथ लर्निंग किट डिस्ट्रीब्यूशन करने की तैयारी की है। शिक्षा विभाग से प्राप्त सूचना के अनुसार कुल 52 जिलों के सरकारी स्कूलों के पहले और दूसरी कक्षा के छात्रों को यह किट उपलब्ध कराई जाएगी। 

प्राइमरी कक्षा के छात्रों की एजुकेशन की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए पहली और दूसरी कक्षा के छात्रों को मुफ्त में यह मैथ लर्निंग किट प्रदान करने के जैसा शिक्षा विभाग का यह पहला कदम होगा। शिक्षा विभाग को आशा है कि ऐसा करने से छात्रों में मैथ एजुकेशन सुधार होगा और उनके अंदर एक विशेष प्रगति होगी। छात्रों को मैथ उपहार स्वरूप बांटने की यह एक स्पॉन्सर स्कीम है, जिसको राज्य शिक्षा विभाग द्वारा स्ट्रेंथेनिंग टीचिंग-लर्निंग एंड रिजल्ट्स फॉर स्टेट्स (स्टार्स) प्रोजेक्ट के माध्यम से खरीदा जाएगा। 

पहली और दूसरी कक्षा के छात्रों को मिलेगी मैथ किट  

प्राइमरी एजुकेशन की क्वालिटी बढ़ाने के उद्देश्य से शिक्षा विभाग ने पहली और दूसरी कक्षा के छात्रों में गणित कौशल को मजबूत बनाने के लिए उन्हें NCERT की डिजाइन की गई मैथ किट डिस्ट्रीब्यूट करने का एक अहम कदम उठाया है। छात्रों को मुफ्त में मैथ किट प्रदान करने के लिए एक सेंट्रल स्पॉन्सर स्कीम है। मैथ किट डिस्ट्रीब्यूट करने के लिए राज्य शिक्षा विभाग द्वारा स्ट्रेटनिंग टीचिंग-लर्निंग एंड रिजल्ट्स फॉर स्टेट्स प्रोजेक्ट इन सभी किटों को खरीदेगा। 

6 राज्यों तक परियोजना पहुंचने का लक्ष्य 

शिक्षा क्षेत्र में छात्रों को अलग गुणवत्ता की शिक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से केंद्र सरकार ने शिक्षा विभाग के माध्यम से इस परियोजना को फाइनेंशियल ईयर 2024-25 अगले 5 सालों तक राष्ट्र के कुल 6 राज्यों में मध्य प्रदेश, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, ओडीशा, केरल और महाराष्ट्र में इस ‘स्टार्स प्रोजेक्ट’ को चलाया जाएगा और प्राइमरी कक्षा 1 और 2 के छात्रों को NCERT मैथ किट दी जाएगी। 

सरकारी स्कूल के छात्रों को मिलेगी किट  

प्राइमरी एजुकेशन की गुणवत्ता को और बेहतर बनाने के उद्देश्य से राज्य शिक्षा विभाग ने ‘स्टार्स प्रोजेक्ट’ चलाया है, जिसके तहत तकरीबन 52 जिलों के सरकारी स्कूलों के पहले और दूसरी कक्षा के छात्रों को मुफ्त में स्पेशल मैथ किट उपलब्ध कराई जाएग। राज्य शिक्षा विभाग के इस कदम से छात्रों का मानसिक विकास होगा और वह शिक्षा के प्रति आगे बढ़ेंगे।

इसे भी पढ़ें –  मोहन कैबिनेट की बैठक में इन योजनाओं और प्रस्तावों को मिली मंजूरी

Author

  • Karan Sharma

    मेरा नाम करण है और मैं apnakal.com वेबसाइट के लिए आर्टिकल लिखता हूं। हिंदी लिखने का मेरा जुनून है जो मुझे सब कुछ के बारे में लिखने के लिए प्रेरित करता है।

    View all posts

Leave a Comment

Your Website