MP News: सीएम मोहन यादव भी अब शिवराज सिंह की राह पर, देखिये क्या है बुलडोजर न्याय मामला

उज्जैन में अब फिर से मकान तोड़े जा रहे हैं, और कुछ पत्रकारों के खिलाफ ब्लैकमेलिंग के आरोप लगाए जा रहे हैं। जुलाई 2023 में उज्जैन में हुए एक घटना में तीन युवकों को श्री महाकालेश्वर सवारी पर थूकने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। उन युवकों को 51 दिनों बाद जमानत मिली, लेकिन इनके घर को बुलडोजर से तोड़ा गया।

उजैन में श्री महाकालेश्वर की सवारी के ऊपर थूकने के आरोप में पुलिस ने तीन युवकों को किया गिरफ्तार

उजैन में श्री महाकालेश्वर की सवारी के ऊपर थूकने के आरोप में पुलिस ने तीन युवकों को गिरफ्तार किया था। और सजा के तौर पर इन तीन युवकों के घर पर बुलडोजर भी चलाया गया। लेकिन इन तीन युवकों के गिरफ्तारी के ठीक 51 दिन बाद सोमवार को उज्जैन की अदालत ने इन तीनों को जमानत दे दी।

लेकिन मकान तो टूट ही गए सजा तो उनको भले वो दोषी हो या ना हो उनको मिल गई। और अब उज्जैन में फिर से मकान तोड़े जा रहे हैं और इस बार पत्रकारों के मकान तोड़े जा रहे हैं। जिनके ऊपर आरोप लगाया जा रहा है कि वह ब्लैक मेलर हैं। इन पत्रकारों के ऊपर पुलिस ने इनाम भी घोषित किया है।

मुख्यमंत्री मोहन यादव के खिलाफ पत्रकारों ने लिखा

मामला जैन की श्री महाकालेश्वर सवारी पर थूकने की तरह भी हो सकता है। क्योंकि इन दोनों ही पत्रकारों ने चुनावों से ठीक पहले मुख्यमंत्री मोहन यादव के खिलाफ लिखा था। उस समय मोहन यादव मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं थे। इन पत्रकारों के खिलाफ जो आरोप हैं फिर दोषी कौन होगा। उसके ऊपर क्या एक्शन लिया जा सकता है सवाल यही है कि ये जो बुलडोजर जस्टिस सिस्टम है ये कितना सही है या गलत है।

तीन लड़कों को 151 दिन बाद जमानत हुई

सोमवार को श्री महाकालेश्वर सवारी के ऊपर थूकने के आरोप में तीन लड़कों को गिरफ्तार किया गया था। 151 दिन बाद उनकी बेल हुई जमानत हुई लेकिन घर टूट गए थे।

यह पढ़ें – Mohan Cabinet Meeting 2024: मोहन कैबिनेट की बैठक में इन योजनाओं और प्रस्तावों को मिली मंजूरी

बुलडोजर जस्टिस सिस्टम

बुलडोजर जस्टिस न्याय के खिलाफ है। किसी का अपराधी का घर तोड़ना यह बुलडोजर जस्टिस सिस्टम सही है और यह कैसे दोषी और निर्दोषी को पहचानता है।

मध्य प्रदेश में भी अब उत्तरप्रदेश की तरह बुलडोजर सिस्टम शुरू हो गया है। हलाकि यह हमारे कानून में नहीं है लेकिन फिर भी कुछ लोग इस सिस्टम को पसंद कर रहें हैं तो कुछ लोग इसकी निंदा कर रहे हैं। आप क्या विचार रखते हैं इस बारे में अपनी राय नीचे कमेंट करके जरुर बताएं।

Author

Leave a Comment

Your Website