मध्यप्रदेश रोजगार सहायकों को मिला सबसे बड़ा तोहफा, 50% आरक्षण के साथ वेतन हुआ दोगुना

MP News: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विधानसभा चुनाव से पहले अब रोजगार सहायकों को बड़ी ख़ुशख़बरी दी है हाल ही में रोजगार सहायकों के सम्मलेन के दौरान चुवानी साल में मध्यप्रदेश रोजगार सहायकों के हित में बहुत अहम फैसले लिए हैं जिसमें उनके कार्यकाल, वेतन, नियुक्ति आदि शामिल हैं। साथ ही उन्होंने एलान किया कि अब रोजगार सहायकों की सेवाएं मनमाने तरीके से समाप्त नहीं की जा सकेंगी।

आपको बता दें कि इससे पहले आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का सम्मलेन रखा गया था जहाँ पर उनकी भी वेतन में वृद्धि की गई इसके बाद कल रोजगार सहायकों के सम्मेलन में शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के रोजगार सहायकों को बहुत बड़ा तोहफा दिया है। इस सम्मलेन में पूरे प्रदेश से लगभग 20 हजार से अधिक रोजगार सहायक शामिल हुए थे। 

रोजगार सहायकों के लिए बड़ी घोषणाएं –

रोजगार सहायकों को 50% आरक्षण

पंचायत सचिव की नियुक्ति में 50% रिजर्वेशन रोजगार सहायकों को दिया जाएगा। रोजगार सहायकों की नियुक्ति और स्थानांतरण आदि में समस्त प्रक्रियाएं अब पंचायत सचिवों के समान ही होगी 

वेतन वृद्धि 

हमारे रोजगार सहायकों का मासिक मानदेय ₹ 9,000 से बढ़ाकर ₹18,000 किया जाएगा। 

मिलेंगे अवकाश

सामान्य अवकाश, प्रसूती अवकाश, ऐच्छिक अवकाश दिया जाएगा। मातृत्व अवकाश के साथ ही पितृत्व अवकाश भी प्रदान किया जाएगा। 

सेवा समाप्त नहीं होगी 

मुख्यमंत्री ने कहा कि उचित प्रक्रियाओं के बिना सेवाएं समाप्त नहीं की जाएंगी. केवल गंभीर अपराध के मामलों में ही सेवाएं समाप्त की जाएंगी.  सीएम शिवराज ने कहा कि गलती कोई भी करे रोजगार सहायकों को निपटा दो ऐसा नहीं होगा, बिना वकील ,बिना दलील ,बिना अपील सेवा समाप्त नहीं होगी. पूरी प्रक्रिया का पालन किया जाएगा अगर कोई गंभीर अपराध है तो ही सेवाएं समाप्त होगी.

मुख्यमंत्री ने किया रोजगार सहायकों के काम की तारीफ़ 

प्रधानमंत्री आवास योजना, आयुष्मान भारत योजना, स्वच्छ भारत मिशन, संबल योजना, राष्ट्रीय परिवार सहायता कार्यक्रम और लाड़ली बहना योजना से संबंधित महत्वपूर्ण कार्यों को रोजगार सहायकों ने सफलतापूर्वक करके दिखाया है। हमने मनरेगा के क्रियान्वयन एवं संचालन की डोर रोजगार सहायकों के हाथों में दी थी। मजदूरों के सर्वे से लेकर जॉब कार्ड का निर्माण एवं मजदूरों की उपस्थिति दर्ज करने, मस्टर रोल बनाने तक का काम आपके बूते हुआ। 

यह भी पढ़ें – 

मध्यप्रदेश में महिलाओं के लिए कौन कौन सी योजनाएं चल रही है?

लाड़ली बहनें अपने मन की बात साझा कर पाएं 5000 रुपये का इनाम, DBT खाते में जमा होंगे पैसे

Author

  • Srajan Thakur

    मेरा नाम सृजन है और मुझे लिखना काफी पसंद है। मैं एक जिज्ञासु वक्तितित्व का हूँ इसलिए मैं सम्पूर्ण विषयों के ऊपर लेख लिखने में सक्षम हूँ। में एक पूर्ण रूप से लेखक कहलाता हूँ।

Leave a Comment

Your Website