Mahtari Vandan Yojana: खाते में नहीं आए महतारी वंदन योजना के पैसे? तो जल्दी करें यह काम

महतारी वंदन योजना की राशि कल 10 मार्च को लगभग दोपहर में 2 बजे सभी पात्र 70 लाख महिलाओं के बैंक डीबीटी खाते में ट्रांसफर किए जा चुके हैं। लेकिन कुछ महिलाएं ऐसी भी हैं जिनके खाते में अब तक योजना की राशि प्राप्त नहीं हुई है। तो आपको चिंता करने की आवश्यकता नहीं है।

Mahtari Vandana Yojana

महतारी वंदन योजना की राशि डायरेक्ट बैंक खाते में अंतरित की गई है। और छत्तीसगढ़ की साय सरकार हर महीने ₹1000 और सालाना ₹12000 महतारी वंदन योजना के तहत महिलाओं को देंगे। इस योजना की पहली किस्त आवंटित करने के लिए छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वर्चुअल उपस्थित हुए और पहले किस्त की राशि अंतरित की।

ऐसे चैक करें पहली किस्त की राशि

महतारी वंदन योजना भुगतान स्टेटस देखने के लिए आपको सबसे पहले mahtarivandan.cgstate.gov.in/ पर जाना होगा। फिर आपको मेनू में दिए गए “आवेदन एवं भुगतान की स्थिती” विकल्प पर क्लिक करना होगा। आगे आपको लाभार्थी क्रमांक, मोबाइल नंबर, आधार नंबर और कैप्चा कोड दर्ज करना होगा। और आगे बढ़ने के लिए “सबमिट” के बटन पर क्लिक करना होगा। अंत में आपको स्क्रीन पर महतारी वंदना योजना पहली किस्त का भुगतान स्टेटस दिखाई देगा।

वैकल्पिक रूप से आप बैंक खाते की जांच कर महतारी वंदन योजना की पहली किस्त की राशि चैक कर सकते हैं या बैंक SMS अलर्ट ऑन होने की दशा में भी आप SMS की जांच कर पहली किस्त का भुगतान स्टेटस देख सकते हैं। इसके साथ ही नज़दीकी बैंक शाखा या ATM में जाकर भी बैंक स्टेटमेंट की जांच कर सकते हैं। और यह पता लगा सकते हैं कि आपकी पहली किस्त की राशि प्राप्त हुई या नहीं।

यह भी पढ़ें – CM मोहन यादव ने किसानों के लिए किया बड़ा ऐलान, ओलावृष्टि से हुऐ नुकसानों का मिलेगा मुआवजा

खाते में नहीं आए पैसे तो जल्दी करें यह

महतारी वंदन योजना की पहली किस्त पात्र महिलाओं के खाते में जारी की गई है जिसमें 70 लाख से अधिक महिलाएं शामिल हैं लेकिन अगर आप इन 70 लाख महिलाओं में शामिल नहीं है तो आपको पहली किस्त की राशि ट्रांसफर नहीं की गई है इस लिए सबसे पहली महतारी वंदन योजना की आधिकारिक वेबसाइट की मदद से पात्र सूची अवश्य देखें।

अगर आपका नाम पात्र सूची में शामिल है लेकिन फिर भी आपको पहली किस्त की राशि प्राप्त नहीं हुई है तो आप सुनिश्चित करें की बैंक DBT खाता सक्रिय है या नहीं अगर आपके खाते में NPCI सर्वर लिंक नहीं है, आधार लिंक नहीं है, eKYC नहीं है तो आपको बैंक जाकर ये काम अनिवार्य रूप से कराने होंगे।

यह भी पढ़ें – MP News: CM मोहन यादव ने मंगई सरकारी कर्मचारियों की फाइल, अब मिलेगा 4 फीसदी डीए का लाभ

Author

Leave a Comment

Your Website