Durga Puja In Hindi 2021 दुर्गा पूजा ऐतिहसिक तथ्य क्या

Last Updated on 1 year ago

                                                                    Durga Puja In Hindi    
durga-puja-in-hindi
दुर्गा पूजा  (Durga Puja In Hindi)  भारतीय ऐतिहासिक तथ्य के अनुसार दुर्गा पूजा हमारी  भव्य त्यौहारों में से एक है, इस त्यौहार की सबसे महत्यवपूर्ण बात यह है की दुर्गा पूजा की लोगप्रियता किसी भी युग में काम नहीं हुई है, युगो युगो से  चलती आ रही दुर्गा पूजा मानाने की परंपरा और भी लोगप्रिय होती जा रही है, आज की आधुनिक समय में दुर्गा पूजा भारत के साथ साथ अन्य कई देशों में बारे ही धूम धाम से मनाया जाता है, इस त्यौहार पर लोग नौ दिन का उपवास रखकर माँ दुर्गा की नौ अवतारों की पूजा करते है|
नवरात्रि(Durga Puja In Hindi)
नवरात्रि या दुर्गा पूजा क्यों मानते है (Why we celebrate Durga Puja in Hindi)
इन दिनों दुर्गा माता के नौ रूपों की पूजा की जाती है, 9 दिनों तक चलने वाला नवरात्रि का यह त्योहार दुर्गा माता के अलग-अलग रूपों के 9 अवतारों को प्रदर्शित करते हैं 9 दिनों के बाद विजया दशमी अर्थात दशहरा का त्यौहार मनाया जाता है। दशहरा का यह त्यौहार हिंदुओं के पवित्र और प्रमुख त्योहारों में से एक है आज के ही दिन भगवान राम ने लंका के राजा रावण को पराजित किया कर बुराई का अंत कर दिया था। आज के ही दिन मां दुर्गा ने महिषासुर का वध करके लोगों को महिषासुर के भय से मुक्त कर दिया था।
पौराणिक कथाओं के अनुसार दुर्गा पूजा का महत्व
(Durga Puja ka dharmik itihas kya hai)
10 दिनों तक चलने वाला दशहरा का यह त्यौहार बुराई पर अच्छाई की जीत के रूप में मनाया जाता है, पौराणिक कथाओं के अनुसार जब असुर महिषासुर ने भगवान महादेव से शक्ति पाकर देवताओं के बीच आतंक पैदा कर दिया था, सभी देवी देवता असुर महिषासुर के प्रकोप से भयभीत हो गया था, तब उन्होंने भगवान महादेव से मदद मांगी , भगवान महादेव ने माता पार्वती को असुर महिषासुर का सर्वनाश करने के लिए आग्रह किया क्योंकि माता पार्वती को असुर महिषासुर को  वध करने की शक्ति प्राप्त थी, और आज का दिन नवरात्रि का दसवां दिन था, माता पार्वती ने असुर महिषासुर का वध कर देवी देवताओं को असुर महिषासुर के भय मुक्त कर दिए। वहीं रामायण के अनुसार आज के ही दिन भगवान राम ने रावण के ऊपर विजय प्राप्त की थी, रामायण के अनुसार आज के ही दिन भगवान राम ने रावण का वध कर बुराई का हमेशा के लिए अंत कर दिया था। और फिर प्रभु श्री राम के हाथों रावण के वध होने के बाद से ही दशहरा मनाने की परंपरा शुरू हुई थी,
इस साल दशहरा कब मनाया जाएगा
इस साल दशहरा मनाने का 3 शुभ योग बन रहा है 15 अक्टूबर 2021 दिन शुक्रवार को दशहरा मनाया जाएगा, ऐसा माना जा रहा है कि शुभ मुहूर्त पर पूजा करने से लोगों को लाभ मिलेगा। जिसकी तिथि 15 अक्टूबर शुक्रवार को 2:00 बजे से लेकर 3:00 बजे तक का है 
दशहरे पर कैसे करें पूजन(Durga Puja In Hindi)
दशहरा के दिन चौकी पर लाल रंग के कपड़े बिछाकर उस पर भगवान श्री राम और मां दुर्गा की मूर्ति स्थापित करें, उसके बाद हल्दी चावल पीले करने के बाद स्वास्तिक  के रूप में गणेश जी को स्थापित करें साथ ही नवग्रहों की स्थापना करें, और अपने इष्टो की आराधना करें, अपने इष्टो को स्थान दें और लाल फूलों से पूजा करें, गुड़ के बने पकवानों से भोग लगाएं, इसके बाद अपनी इच्छा अनुसार दान दक्षिणा दें, और गरीबों को भोजन कराएं।
आधुनिक काल में दशहरा पूजा का महत्व
(About Durga Puja in Hindi)
आधुनिक समय में दशहरा भारत के साथ साथ अन्य कई देशों में बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है, आधुनिक समय में दशहरा का यह त्यौहार हिंदू धर्म के लोगों के साथ साथ अन्य कई धर्मों के लोगों के द्वारा मनाया जाता है, आज के समय में दशहरा का त्यौहार देश के विभिन्न हिस्सों में बड़े-बड़े पंडाल बना कर कृत्रिम मंडप और मंदिर बनाकर मां दुर्गा की मूर्ति स्थापित की जाती है। दशहरा के अवसर पर मेला की आयोजन की जाती है जहां पर लोगों की काफी भीड़ उमड़ती है, लोग बड़े पैमाने पर दसवीं के दिन मां दुर्गा की पूजा करने के लिए आते हैं। मां दुर्गा की आरती व्रत और पूजा करने के बाद अपने परिवार और मित्र गणों के साथ मेला का आनंद उठाते हैं, लोग विभिन्न प्रकार के वस्तुओं का खरीदारी भी करते हैं। इस प्रकार दुर्गा पूजा आज के आधुनिक समय में लोगों के लिए ढेर सारा अवसर लेकर आता है।
I hope you guys will love this article  Durga Puja In Hindi
इसे भी पढ़ें
visit my youtube chanel

लेखक के बारे में

  • Princi Soni

    I have been writing for the Apna Kal for a few years now and I love it! My content has been Also published in leading newspapers and magazines.

अपने दोस्तों को शेयर करें !!

Leave a Comment

DMCA.com Protection Status