PPF या FD दोनों में से भविष्य के लिए क्या है बेहतर, जाने किसमें मिलेगा ज़्यादा रिटर्न  

पैसा आज के समय पर हर व्यक्ति के लिए सबसे बड़ी जरूरत बन गया है क्योंकि ये हमारी और हमारे परिवार की सभी छोटी से लेकर बड़ी जरूरतों को पूरा करने में काम आता है। अपनी युवा अवस्था में कमाई के साथ अपने और अपने परिवार के भविष्य की प्लानिंग करने का काम ही परिवार के मुखिया का होता है। 

अपनी मेहनत से कमाए हुए पैसे से अपने बुढ़ापे और अपने परिवार के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए आप उस पैसे को कहीं निवेश करना चाहते हैं लेकिन अक्सर ऐसा होता है जब आपकी भी है और एफडी में से कौन सा विकल्प सही है, निर्णय नहीं कर पाते हैं तो इस विषय में शायद हम आपकी कुछ मदद कर सकते हैं, उसके लिए आपको इस लेख को अंत तक पढ़ना होगा। 

सरकारी स्कीम में निवेश करना है लोगों की पहली पसंद 

अपने मेहनत के पैसे से अपने भविष्य को सुरक्षित करने के लिए आज भी लोग सरकारी योजनाओं पर ज्यादा विश्वास करते हैं। सरकारी स्कीम में से FD और PPF में से किसे चुनना चाहिए इस जगह पर लोग सही विकल्प नहीं चुन पाते हैं तो हम आपको बता दें कि दोनों ही स्कीम मार्केट जोखिम से दूर है। भारतीय रिजर्व बैंक ने बढ़ती महँगाई को देखते हुए अपनी ब्याज दर में इजाफ़ा किया है जिसके बाद कई बैंक अपने ग्राहकों को 8 से 9 फिसदी तक की ब्याज दरौ में लंबी अवधि के लिए बढ़ोतरी प्रदान कर रही है। 

क्या है फिक्स्ड डिपॉजिट (FD)

फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) बैंक या NBFC के द्वारा जारी एक बचत योजना है जिसमें निवेश करने पर कोई बाजार जोखिम नहीं है। इसमें निवेशक द्वारा एक निश्चित अवधि के लिए एक निश्चित ब्याज दर पर एक विशिष्ट राशि जमा करता है, जो नियमित बचत खाते की तुलना में उच्च दर का रिटर्न प्रदान करता है जिस में निवेशक न्यूनतम 7 दिन से लेकर अधिकतम 10 साल तक निवेश कर सकते हैं इसके साथ ही इसमें निवेश कर्ता को मंथली, तिमाही या छमाही कंपाउंड इंटरेस्ट मिलता है।  

क्या है सार्वजनिक भविष्य निधि (PPF)

सार्वजनिक भविष्य निधि (PPF) एक बचत योजना है जो दीर्घकालिक निवेश उत्पाद के रूप में कार्य करती है। PPF अकाउंट की अवधि 15 वर्ष की होती है इस कार्यकाल को 5 साल के ब्लॉक में बढ़ाया जाता है। PPF खाते को कोई भी व्यक्ति खुलवा सकता है आप चाहें तो अपने नाबालिग बच्चे की तरफ से भी PPF खाता खुलवा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें –  एकमुश्त राशि निकालने के लिए हुए बड़े बदलाव, NPS कर्मचारी अब नहीं निकाल सकेंगे राशि

PPF या FD कौन सी स्कीम है बेहतर

अगर हम PPF या FD दोनों में से मिलने वाले रिटर्न की बात करें तो भी PPF स्कीम में कंपाउंडिंग के आधार पर रिटर्न मिलता है वही दूसरी तरफ FD  स्कीम में कंपाउंडिंग या सामान्य दोनों तरीके से रिटर्न प्राप्त होता है। पीपीएफ एक लंबे समय की अवधि के लिए है जिसमें लंबे समय तक निवेश कर रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं वाही अगर आप छोटी अवधि के लिए निवेश की प्लानिंग कर रहे हैं तो FD अच्छा विकल्प है क्योंकि इसकी अवधि PPF से कम होती है। 

Author

  • Srajan Thakur

    मेरा नाम सृजन है और मुझे लिखना काफी पसंद है। मैं एक जिज्ञासु वक्तितित्व का हूँ इसलिए मैं सम्पूर्ण विषयों के ऊपर लेख लिखने में सक्षम हूँ। में एक पूर्ण रूप से लेखक कहलाता हूँ।

Leave a Comment

Your Website