लाडली बहनों को ऐसे मिलेगा 450 रुपये का गैस सिलेंडर, देखें पूरी प्रक्रिया

मध्यप्रदेश सरकार ने लाडली बहनों के लिए 450 रुपए वाले गैस सिलेंडर को मंजूरी दे दी है। और अब लाडली बहनों को 600 रूपए गैस सिलेंडर सब्सिडी के प्राप्त होने वाले हैं।

सीएम शिवराज सिंह ने पहले ही यह घोषणा कर दी थी कि, बहनों को सावन महीने में 450 रुपए में गैस सिलेंडर दिया जाएगा। और अब इस बात को लेकर अब मध्य प्रदेश सरकार ने कैबिनेट बैठक में मुहर लगा दी है। और इस वजह से ही मध्य प्रदेश की महिलाएं अब काफी खुश हैं। कई शहर और गांव की गैस एजेंसियों पर महिलाओं की भीड़ देखने को मिली, मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की कि प्रदेश की महिलाओं को 450 रुपए में गैस सिलेंडर प्राप्त होगा। शिवराज सिंह चौहान के इस घोषणा से मध्यप्रदेश की लाखों महिलाओं को फायदा मिलेगा। शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आगे भी महिलाओं को राहत देने की कोशिश करूंगा।

महिलाओं के खाते में 600 रुपए क्रेडिट

लाडली बहनों को 450 रुपए में गैस सिलेंडर प्राप्त हो रहा है। हालाकि इसके लिए विशेष पात्रता और नियम निर्धारित किए गए हैं। लाडली बहनों को 600 रुपए की गैस सिलेंडर पर सब्सिडी दी जा रही है लेकिन आपको सभी पात्रता मानदंड को फ़ॉलो करना होगा।

450 रुपए में गैस सिलेंडर कैसे प्राप्त करें

लाडली बहनों को 450 रुपए में गैस सिलेंडर प्राप्त करने के लिए उज्जवला योजना और लाडली बहना योजना दोनों ही योजनाओं में अपना नाम पंजीकृत करना होगा। इसके साथ ही आपके गैस सिलेंडर की बुकिंग 4 जुलाई से 31 अगस्त के बीच होनी चाहिए। अगर यह पात्रता आप रखते हैं तो आपको भी 450 रुपए में गैस सिलेंडर प्राप्त होगा और बैंक खाते में 600 रुपए की सब्सिडी प्राप्त हो जाएगी।

यह भी पढ़ें – CM Ladli Bahna Yojana: लाडली बहनों के खाते में गैस सिलेंडर सब्सिडी के 600 रुपये जमा

महिलाओं को केंद्र सरकार ने भी दी राहत

केंद्र सरकार ने घरेलू गैस सिलेंडर की कीमत पर 200 रुपए की कमी का ऐलान बीते 30 अगस्त को किया था, जबकि, 1 सितंबर से कमर्शियल एलपीजी सिलिंडर की कीमत भी 158 रुपये प्रति सिलेंडर की कमी भी की गई थी, इसके साथ ही अब मध्य प्रदेश सरकार ने अपनी महिला लाभार्थियों को केवल 450 रुपये में रसोई गैस सिलेंडर देने की घोषणा की है।

यह भी पढ़ें – मध्यप्रदेश में सिर्फ 5 रुपये में मिलेगा भरपेट भोजन, 66 नए दीनदयाल रसोई केंद्रों का किया उद्घाटन

Author

Leave a Comment

Your Website