मुख्यमंत्री ने बहनों को बनाया मालिक, महिलाओं को मिल रहा है इन योजनाओं का लाभ अभी करें आवेदन

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हाल ही में आयोजित एक सम्मलेन में शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैंने बचपन में बहनों के साथ अन्याय होते देखा है, बहु बेटियों के साथ भेदभाव होते देखा है इस पुरुष प्रधान देश में अपनी बहनों का में सर ऊँचा करना चाहता था उन्हें आत्मनिर्भर बनाने की मैंने कसम खा ली थी। 

विधानसभा चुनाव के पहले महिलाओं को आगे बढ़ाने, आत्मनिर्भर बनाने, समाज में उनका स्थान सर्वोपरि करने हेतु हर क्षेत्र में मामा ने काम किया है  सिलसिले को जारी रखते हुए उन्होंने महिलाओं को लाभान्वित करने के लिए बहुत सी योजनाओं को लागू किया है। मुख्यमंत्री बनते ही सबसे पहले लाडली लक्ष्मी योजना बनाई, उसके बाद कन्या विवाह योजना बनाई और अब बहनों के लिए लाडली बहना योजना को लागू किया है और आगे भी मेरी बहनों के लिए में हर संभव कोशिश करूँगा। 

लाड़ली लक्ष्मी योजना

लाड़ली लक्ष्मी योजना के अंतर्गत बालिका के नाम से पंजीकरण के समय से लगातार पांच वर्षों तक रूपये 6-6 हजार मध्यप्रदेष लाड़ली लक्ष्मी योजना निधि में जमा किये जाऐगें अर्थात कुल राशि रूपये 30000 बालिका के नाम से जमा किये जाऐगें। बालिका के कक्षा 6 में प्रवेश लेने पर रू.2000, कक्षा 9 वीं में प्रवेश लेने पर रू.4000, कक्षा 11 वीं में प्रवेश लेने पर रू.6000 तथा 12वीं कक्षा में प्रवेश लेने पर रू.6000 ई-पेमेंट के माध्यम से किया जावेगा। अंतिम भुगतान रूपये 1 लाख बालिका की आयु 21 वर्ष होने पर किया जायगा। 

कन्या विवाह योजना

मुख्यमंत्री कन्या विवाह के अंतर्गत सामूहिक विवाह कार्यक्रम के दिन वधू को 49000 रूपये का अकाउन्ट पेयी चेक एवं सामूहिक विवाह आयोजनकर्ता निकाय को प्रति कन्या के मान से 6000 रूपये की राशि प्रदान की जाती है। 

लाड़ली बहना योजना 

लाड़ली बहना योजना के लिए मुख्यमंत्री ने कहा कि मजाकिये अंदाज में कहा सगा भाई तो साल में एक बार ही उपहार देता है। मेरे मन में आया की तू भी भाई है, इसलिए में सालभर नहीं, हर महीने बहनों को 1 हजार रुपये दूंगा। हर महीने बहनों के खाते में 1 हजार आएंगे तो बहनों की जिंदगी संवर जाएगी। बहनों को साल में 12 हजार और 5 साल में 60 हजार रुपये मिलेंगे।

यह भी पढ़ें – लाड़ली बहना योजना आवेदन कैसे करें

महिलाओं के नाम पर निःशुल्क रजिस्ट्री

मध्यप्रदेश में जमीन की रजिस्ट्री महिलाओं के नाम पर निःशुल्क कर दिया गया है जबकि यदि कोई पुरुष रजिस्ट्री करवाता है तो उसे रजिस्ट्री का पूरा पैसा देना होता है। ऐसा करने से अब महिलाओं के नाम पर ज्यादा रजिस्ट्री होने लगी है और यह वाकई में आश्चर्यजनक परिणाम है। ऐसे परिणामों से महिलाओं को काफी फायदा है उनका सम्मान और दर्जा काफी बढ़ रहा है। 

जीवन जननी योजना 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने महिलाओं के लिए अब एक और योजना लाने जा रही है जी हाँ दोस्तों यह खुद शिवराज सिंह चौहान ने महिलाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि राज्य की गर्भवती महिलाओं के लिए भी एक नई योजना लाने वाला हूँ जिसके तहत गर्भवती महिलाओं को 4000 रूपए की धनराशि दी जायगी। गर्भवती महिलाओं के लिए आने वाले इस योजना का नाम मुख्यमंत्री जीवन जननी योजना है। 

महिला पेंशन योजना 

मेरी बहनों घर में अगर सास को पेंशन मिल रही होगी तो उसे भी बढ़ाकर 1 हजार कर दूंगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह योजना बना के मेरी जिंदगी सफल हो गई, मेरा जीवन सफल हो गया।

यह भी पढ़ें – भारत में होने वाला है बैंक प्रावेटाइज़ेशन SBI को छोड़कर ये सभी बैंक हो जाएंगे प्राइवेट

Author

  • Karan Sharma

    मेरा नाम करण है और मैं apnakal.com वेबसाइट के लिए आर्टिकल लिखता हूं। हिंदी लिखने का मेरा जुनून है जो मुझे सब कुछ के बारे में लिखने के लिए प्रेरित करता है।

Leave a Comment

Your Website