Speech On Republic Day in Hindi 26 जनवरी पर हिंदी भाषण

Last Updated on 2 years ago

                                        Speech On Republic Day in Hindi 

26 जनवरी  हमारे इतिहास का एक ऐसा दिन है। जिसे हम सब देश वाशियों बड़े ही खुसी और उल्लास के साथ मानते है। क्योंकी आज के ही दिन 26 जनवरी 1950 को हमारा देश में सविधान लागु हुवा था। और फिर सविधान के माध्यम से  छोटे बारे सभी जाती, धर्मों, समुदाय के लोगो को समानता का अधिकार मिला। छुवा-छुत, भेद-भाव, उच-नीच ऐसी सभी प्रकार की सामाजिक गतिविधियों को समाप्त कर सबको एक समानता का अधिकार दिया गया ।   

speech on republic day in hindi

26 जनवरी का रूप रेखा

26 जनवरी  पर भाषण

26 जनवरी क्यों मनाई जाती है

26 जनवरी का महत्व

26 जनवरी को हम राष्टीय त्यौहार क्यों मानते है

26 जनवरी  पर भाषण:- 26 जनवरी हमारी इतिहास का एक अनोखा दिन माना जाता है क्योंकी आज के ही दिन 26 जनवरी 1950 को हमारा देश में सविधान लागु हुवा था और हम इसे गणतंत्र दिवस के रूप में मानते है गावतंत्र का मतलब होता है गण का मतलब जनता और तंत्र का मतलब शाशन होता है  पहली बार लोगो को ये अधिकार मिला की वो अपने द्वारा चुने गए प्रतिनिधित्व को शाशक बना सके देश की इतिहास में पहली बार लोगो के मौलिक अधिकार की  रक्षा के लिए एक कठोर कानून बनाया गया जिनके तहत छोटे बारे सभी वर्ग के लोगो को समानता का अधिकार दिया गया अल्प संख्योको के लिए विशेष प्रावधान  किया गया 

अगर हम अपने देश की आजादी से पहले की बात करे तो हमेशा से आम लोगो का शोषण होता आया है पहले राजा महाराजाओ के द्वारा शोषण किया गया फिर अंग्रजो के द्वारा अगर हम अंग्रजो   की बात करे तो

 Speech On Republic Day in Hindi

जैसे की हम सब जानते है की, अंग्रेज हमरे देश में एक व्यपारी बन कर आया था लेकिन यहाँ का शाशन तंत्र और लोगो में एकता का आभाव पाकर अपना पाव  पसारना शुरू कर दिया और फिर  अपना नींव मजबूत कर लिया पहले राजा महाराजाओ को लोभ देकर उसे  अपने अधीन किया और फिर लोगो में फुट डालकर शाशन किया  इस प्रकार धीरे धीरे भारत  के तमाम   हिस्से पर अपना कब्ज़ा जमा लिया  और फिर उस पर अपना हुकूमत  करने लगा इस प्रकार  लोगो से उनकी आजादी छीन लिया और फिर  उन पर तरह तरह के जुल्म ढाने  लगा आम लोगो का शारारिक शोषण के साथ मानसिक शोषण भी होने लगा  इस प्रकार लोग अंग्रेजो के गुलामी की जंजीरो में जकड़  गया लोग आजाद होना   चाहता था लेकिन उनके पास कोई रास्ता नहीं था ऐसे ही समय में हमारे देश में कई क्रांति करियो ने जन्म लिया जैसे:- वीर कुंवर सिंह , रानी लक्ष्मी बाई , चंद्रशेखर आजाद , भगत सिंह , सुभाष चंद्रबोस , महात्मा गांधी ऐसे कई महापुरुषों ने जन्म लिया जिनके महान बलिदान से देश को आजादी मिली 

अंग्रेज देश छोर कर तो चले गए, लेकिन अपने साथ वो कानून वेवस्था भी लेकर चला गया फिर से देश के अंदर संकट की स्थिति पैदा हो गयी  आखिर  इतनी बरी आबादी वाला देश को  बिना नियम के कैसे चलाया जाए

फिर  देश के अंदर सविधान निर्माण के लिए एक  गठन आयोग बनाया  गया। जिनका प्रमुख अध्यक्ष  डॉ भीमराव अम्बेडकर को रखा  गया, बाबा भीमराव आंबेडकर की सहायता से सविधान की रचना की गई जिसका निर्माण में  2 साल 11 महीना 18 दिन के एक महज प्रयास के बाद हमरा सविधान बन कर तैयार  हुवा जिसे लागु करने के लिया एक तारिक निर्धारित किया गया 26 जनवरी 1950 तब से लेकर  आज तक हम इसे गणतंत्र दिवस के रूप में मानते आये है। आज हम सब देश वासियो तिरेंगे झंडे के निचे एकत्रित होकर उनसब महापुरुषो के बलिदान को नमन करते है जिन्होंने हमें आजादी दिलाई , सविधान की रचना की हमें हर प्रकार की सवतंत्रता दी 

26 जनवरी क्यों मनाई जाती है

 Speech On Republic Day in hindi

india 970422 640

आज के ही दिन हमारे देश में सविधान लागु हुवा था जिनके तहत हमें एक विशेष अधिकार प्राप्त हुवा छोटे बारे सभी प्रकार के लोगो को समानता का अधिकार मिला। हर प्रकार की स्वतंत्रता मिली इसलिए तब से लेकर आज तक हम इसे गणतंत्र दिवस 26 जनवरी के रूप में मानते आये है

26 जनवरी का महत्व

 Speech On Republic Day in Hindi

26 जनवरी हमारे लिए काफी महत्वपूर्ण है हम इसे एक त्यौहार के रूप में मानते है आज के दिन देश की राजधानी दिल्ली में झंडा तोलन का  भव्य समारोह का आगाज माननीय राष्टपति जी के द्वारा किया जाता है जिनमे अनेक कार्यक्रम शामिल होता है हमरे सनाओ द्वारा 31 तोपों की सलामी के साथ साथ कई पुरस्कार समन्धित क्रायक्रम का भी आयोजन किया जाता है शिक्षा , संस्कृति कला समन्धित कई प्रकार का आयोजन किया जाता है स्कुल , कॉलेज, सरकारी दप्तर सार्वजनिक कई जगहों पर भी विशेष त्यारी के साथ झंडा तोलन किया जाता है इस प्रकार 26 जनवरी  हमारी जीवन में एक महत्वपूर्ण उत्सव है जिसे हम हरसो उल्लास के साथ मानते है  

26 जनवरी को हम राष्टीय त्यौहार क्यों मानते है

26 जनवरी को हम राष्टीय त्यौहार के रूप में इस लिए मनाते है क्योकि आज के ही दिन हमें सम्पूर्ण तरीके से आजादी मिली थी 26 जनवरी 1950 को सविधान लागु हुवा था जिनके तहत लोगो को हर प्रकार का स्वतंत्रता मिली छोटे बड़े सभी वर्ग के लोगो को समानता का अधिकार मिला अल्पसंख्योको के लिए  विशेष प्रावधान किया गया  

26 जनवरी के बारे में कुछ महत्वपूर्ण बाते 

  • 26 जनवरी हमारा देश का राष्टीय त्यौहार है 
  • 26 जनवरी 1950 को हमारा देश में सविधान लागु हुवा था 
  • देश के सविधान के निर्माण में  2 वर्ष  11 महीना 18 दिन का समय लगा था
  • देश में लोगो को पहली बार अपना मत देने का अधिकार मिला   
  • गणतंत्र भारत का पहला प्रधानमंत्री के रूप में पंडित जवाहर लाल नेहरू , राष्टपति के रूप में डॉ राजेंद्र प्रसाद , कानून मंत्री डॉ भीमराव अम्बेडकर को चुना गया 
  • 26 जनवरी को हम गणत्रंत्र दिवस के रूप मे देश के तमाम जगहों पर जैसे:- स्कुल , कॉलेज , सरकारी दफ्तर , सर्वाजनिक तमाम जगहों पर बड़े धूम धाम से मनाया जाता है  

Read More

 

15 अगस्त पर एक अनोखा भाषण

मेरा भारत महान है पॉपुलर स्पीच 

दिवाली पर एक शानदार निबंध 

प्रदुषण के महामारी पर निबंध शानदार तरीके से 

जानिए अपने इतिहास के बारे सरल भाषा में 

लेखक के बारे में

  • Princi Soni

    I have been writing for the Apna Kal for a few years now and I love it! My content has been Also published in leading newspapers and magazines.

अपने दोस्तों को शेयर करें !!
DMCA.com Protection Status