शिवराज सिंह चौहान ने अतिथि शिक्षकों का वेतन को किया दोगुना, सरकारी भर्ती में मिलेगा 50% आरक्षण

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में आयोजित अतिथि शिक्षक पंचायत में प्रदेश के अतिथि शिक्षकों के लिए बड़ी घोषणाएं की है। अतिथि शिक्षक पंचायत के कार्यक्रम में प्रदेश भर से लगभग 10 हजार अतिथि शिक्षक और जनजातीय कार्य विभाग द्वारा संचालित स्कूलों के लगभग 64 हज़ार अतिथि शिक्षक प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से शामिल हुए। 

इस कार्यक्रम के दौरान सीएम शिवराज ने अतिथि शिक्षकों की खूब सराहना करते हुए कहा कि जब नियमित शिक्षक नहीं थे, तो आपको अतिथि शिक्षक के रूप में पढ़ाने का दायित्व सौंपा गया और आपने शिक्षा की गाड़ी को आगे बढ़ाया है गांव गांव जाकर बच्चों को पढ़ाते रहे हैं इसके लिए में आप सभी को धन्यवाद देता हूँ इसके साथ ही बहुत सी महत्वपूर्ण घोषणाएं की है जिसके बारे में आज हम चर्चा करने वाले हैं। 

वर्ग – 1,2,3 अतिथि शिक्षकों का वेतन को बढ़ाया 

शिवराज सिंह चौहान ने अतिथि शिक्षकों के हित में घोषणा करते हुए मिलने वाले मानदेय भी दोगुना बढ़ाने का ऐलान किया है। जैसे कि इससे पहले वर्ग-01 के अतिथि शिक्षक को 9000 रुपये के बजाय 18000 रुपये, वर्ग-02 के अतिथि शिक्षकों को 07 हजार के बजाय 14 हजार और वर्ग-03 को 5000 रुपये से बढ़कर 10000 रुपये मानदेय दिया जाएगा। 

सीएम शिवराज ने अतिथि शिक्षकों के मानदेय वेतन के नियमों में बदलाव करते हुए ऐलान किया कि शिक्षकों को अब उनके पीरियड के हिसाब से नहीं बल्कि महीने के हिसाब से मानदेय देने की व्यवस्था की जायगी। साथ ही अब अतिथि शिक्षकों का महीनों के लिए नहीं, बल्कि साल भर के लिए अनुबंध होगा।

अतिथि शिक्षिकों को 25% की जगह 50% आरक्षण

शिवराज सिंह चौहान ने अतिथि शिक्षकों के लिए बड़ा ऐलान करते हुए शिक्षकों की भर्ती में 25 के बजाय 50 फीसदी आरक्षण देने ला ऐलान किया और कहा कि यह व्यवस्था अगली शिक्षक भर्ती से ही लागू की जाएगी। अतिथि शिक्षकों को उच्च शिक्षा विभाग के अनुसार प्रतिवर्ष 04 और अधिकतम 20 अंक बोनस के रूप में दिए जाएंगे, ताकि उनका अधिकतम चयन हो सके।

इसे भी पढ़ें –  सिर्फ 40 लाख महिलाओं को ही मिलेगा 450 रूपये में गैस, जल्दी देखें अपना नाम

भोपाल में आयोजित अतिथि शिक्षक पंचायत में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की बड़ी घोषणाएं।

–  वर्ग-1 में 9 हजार की जगह अब 18 हजार मिलेगा मानदेय

– वर्ग-2 में 7 हजार की जगह अब 14 हजार मानदेय

– वर्ग -3 में 5 हजार की जगह अब 10 हजार मानदेय मिलेगा

– अतिथि शिक्षकों को अब महीने के हिसाब से मानदेय की व्यवस्था होगी।

– अतिथि शिक्षकों के मानदेय में वृद्धि 

– अतिथि शिक्षकों का अनुबंध पूरे एक साल का होगा।

– शिक्षक भर्ती में अतिथि शिक्षिकों को 25% की जगह 50% आरक्षण मिलेगा।

– उच्च शिक्षा विभाग के अनुसार अतिथि शिक्षकों को प्रतिवर्ष 4 और अधिकतम 20 अंक बोनस मिलेंगे।

– महीने की निश्चित तारीख को मानदेय मिलने की व्यवस्था की जाएगी।

– पात्रता परीक्षा लेकर अतिथि शिक्षकों को नियमित करने की दिशा में योजना बनाई जाएगी।

इसे भी पढ़ें – मध्यप्रदेश शिवराज सरकार दे रही है काम सीखने के बदले में 10 हजार रुपए प्रतिमाह

Author

Leave a Comment

Your Website