Senior Citizen Facilities 2024: सीनियर सिटीजन और महिलाओं को ट्रेन में मिलती हैं ये बेहतरीन सुविधाएं, आप भी उठाएं लाभ

जैसे कि हम सभी को पता है हमारे देश में सीनियर सिटीजन को लेकर बहुत सारी सुविधाएं दी गई हैं। और ऐसा होना भी चाहिए क्योंकि सीनियर सिटीजन हमारे देश के सीनियर नागरिक हैं। और उनका ख्याल रखना हमारा कर्तव्य है इसी क्रम में अब सीनियर सिटीजन को ट्रेन में कुछ खास सुविधाएं दी जाती हैं जिसके बारे में हम यहां विस्तार से जानेंगे।

सीनियर सिटीजन के अलावा महिलाओं को भी बहुत सारी सुविधाएं

पढ़े-लिखे लोगों को भी कभी कुछ बातें ऐसी होती हैं जो कि पता नहीं रहती हैं। सीनियर सिटीजन के अलावा महिलाओं को भी ट्रेन में कुछ खास सुविधाएं दी जा रही है। क्योंकि ट्रेन का सफर काफी अच्छा माना जाता है ऐसे में हर कोई चाहता है। हमें आराम से यात्रा करनी है। इसके लिए भारतीय रेल विभाग ने सीनियर सिटीजन और महिलाओं को कुछ खास सुविधाएं देने की बात बताई है।

सीनियर सिटीजन के अलावा महिलाओं को भी बहुत सारी सुविधाएं ऐसी होती हैं। जो की मुफ्त में दी जाती है। लेकिन बहुत से लोग ऐसे हैं जो पढ़े-लिखे होने के बावजूद भी उनको इन सब बातों के बारे में पता नहीं है। और कभी कभी लोगों को लगता है कि कागजी कार्यवाही और लंबी प्रक्रिया है इसी वजह से सभी इन सुविधाओं का लाभ नहीं ले पाते हैं। लेकिन आज हम यहां विस्तार से जानेंगे।

सीनियर सिटीजन को ट्रेन टिकट में 50% की छूट

भारतीय रेल विभाग के द्वारा बुजुर्ग और गर्भवती महिलाओं के लिए यात्रा को आरामदायक बनाने के लिए उन्हें सुविधा दी हैं ट्रेन का सफर काफी आरामदायक होता है। यदि यात्री लंबे सफर के लिए निकले हैं तो ट्रेन का सफर उनके लिए बहुत ही आरामदायक होता है। जिसके कारण सीनियर सिटीजन के लिए भी यह यात्रा बहुत अच्छी होती है। और गर्भवती महिलाओं के लिए यह सफर बहुत आरामदायक माना जाता है। इसलिए भारतीय रेल विभाग ने गर्भवती महिलाओं और बुजुर्गों को ट्रेन टिकट बुक करने में 50% की छूट दी है।

भारतीय रेलवे के मुताबिक कौन है सीनियर सिटीजन

रेलवे के नियमों के मुताबिक, 60 साल की उम्र के पुरुष और 58 साल की महिलाएं सीनियर सिटीजन में आते हैं। और सभी श्रेणी की ट्रेनों के किराये में छूट दी गई है। यह छूट मेल/एक्सप्रेस/राजधानी/शताब्दी/जनशताब्दी/ जैसी सभी ट्रेनों मिलती है। भारतीय रेल के ट्रेन में दो तरह के डिब्बे हैं। एक तो रिजर्व और दूसरा अनरिजर्व। जब कोई सीनियर सिटीजन रिजर्व टिकट खरीदता है तो रेलवे उन्हें प्राथमिकता के आधार पर लोअर बर्थ अलॉट करता है।

यह भी पढ़ें – पुलिस की नौकरी उम्मीदवारों के लिए CAPF में निकली सब इंस्पेक्टर की भर्ती, यहाँ से करें आवेदन

45 साल से अधिक उम्र वाली महिलाएं भी अकोमोडेट

रेलवे के जिन ट्रेनों में रिजर्व कोच की व्यवस्था है, उनमें कुछ बर्थ सीनियर सिटीजन्स के लिए रिजर्व हैं। स्लीपर कोच की हर कोच में छह लोअर बर्थ सीनियर सिटीजन के लिए रिजर्व होती है। एसी 3 टीयर और एसी 2 टीयर के कोच में तीन लोअर बर्थ सीनियर सिटीजन्स के लिए रिजर्व होते हैं। इन बर्थ में 45 साल से अधिक उम्र वाली महिलाएं और गर्भवती महिलाएं भी अकोमोडेट की जाती हैं।

इन दोनों जोनल रेलवे के लोकल ट्रेनों में कुछ सीटें सीनियर सिटीजन्स के लिए इयरमार्कड हैं। महिलाओं के लिए इन ट्रेनों में कुछ डिब्बे ही रिजर्व हैं। लेडीज सीनियर सिटीजन को उन्हीं डिब्बों में अकोमोडेट किया जाता है।

यह भी पढ़ें – 65 वर्ष नहीं होगी सरकारी कर्मचारियों की रिटायरमेंट उम्र, वित्त विभाग का आया अधिकारिक ऐलान

Author

Leave a Comment

Your Website