शिवराज की कैबिनेट बैठक आशा कार्यकर्ताओं का 3 गुना बढ़ाया वेतन और हर महीने अलग से मिलेगी प्रोत्साहन राशि

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हाल ही में कैबिनेट के बैठक में कई अहम् फैसलों को मंजूरी दे दी है। जिसमें मुख्य रूप से आशा कार्यकर्ताओं के वेतन वृद्धि के लिए मंजूरी मिल गयी है। साथ ही इनके प्रोत्साहन राशि और सेवानिवृत को लेकर भी फैसले लिए गए हैं। मुख्यमंत्री सीएम शिवराज ने बैगा, भारिया और सहरिया जनजाति के लिए लाड़ली बहना योजना का लाभ देने का निर्णय लिया है। 

शिवराज सिंह अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक के दौरन सरकार ने फैसला लिया कि 15 सितंबर से 2 अक्टूबर तक युवाओं के लिए जिला संभाग और राज्य स्तर पर बड़े पैमाने पर खेलों का आयोजन किया जाएगा। 31 अगस्त 2023 तक के बिजली बिल बड़े हुए सभी बिल को स्थगित किए जाएंगे इसके अलावा भी कैबिनेट ने कई अहम् मुद्दों पर फैसला लिया है जिसके बारे में आगे हम आपको बताने वाले हैं। 

आशा कार्यकर्ताओं के लिए अहम् घोषणाएं 

हाल ही में हुए शिवराज कैबिनेट बैठक में शिवराज सरकार ने आशा कार्यकर्ताओं की प्रोत्साहन राशि को 2,000 से बढ़ाकर 6,000 रुपये करने की मंजूरी दे दी है। इसके अलावा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि इस राशि में प्रतिवर्ष ₹1000 की बढ़ोत्तरी भी की जाएगी। यानि कि हर साल इन आशा की वेतन वृद्धि भी की जायगी। 

इसके साथ ही आशा पर्यवेक्षकों की प्रोत्साहन राशि को 350 रुपये से बढ़ाकर 500 रुपये करने और अधिकतम 15,000 रुपए प्रतिमाह करने की मंजूरी दी गई। कैबिनेट ने शहरी आशा पर्यवेक्षकों की सेवानिवृत्ति पर दी जाने वाली राशि को 20,000 रुपये से बढ़ाकर 1,00,000 रुपये करने की मंजूरी दी। आशा, शहरी आशा एवं आशा पर्यवेक्षकों के परिवारों को उनकी कर्त्तव्य अवधि में प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का पात्र परिवार भी माना गया है।

सिर्फ इन महिलाओं को मिलेगा 450 रुपये में गैस 

शिवराज सिंह चौहान ने 27 अगस्त को अपनी लाड़ली बहनों को 450 रुपये में गैस देने का ऐलान किया था परन्तु अब कैबिनेट बैठक में इसके लिए कई अहम् बदलाव हुए हैं जैसे यह गैस सिर्फ उन महिलाओं को दिए जायेंगे जो प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना से जुडी हुई हैं और इसका इस योजना का लाभ लगभग 40 लाख महिलाओं को ही मिलेगा। 

मेधावी विद्यार्थी योजना में वार्षिक आय सीमा अब 8 लाख

शिवराज कैबिनेट बैठक में मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना अन्तर्गत विद्यार्थी के पिता की वार्षिक आय सीमा 6 लाख रूपये से बढ़ा कर 8 लाख रूपये करने का भी अहम् फैसला लिया गया है जिससे अब अगले साल 8 लाख रुपये आय परिवारों को छात्र छात्राएं मेधावी विद्यार्थी योजना में शामिल हो सकेंगे।

 इसे भी पढ़ें – नारी सम्मान योजना में 2000 रुपए महीना, मध्यप्रदेश की सभी बहनें होंगी पात्र

Leave a Comment

Your Website