MP News: मध्यप्रदेश किसानों के लिए खुशखबरी, समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद के लिए पंजीयन शुरू

MP News: मध्य प्रदेश में समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद का कार्य शुरू होने वाला है जिसको लेकर मध्य प्रदेश की मोहन यादव सरकार ने राज्य के किसानों के लिए एक बड़ा अपडेट जारी करते हुए समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद पर पंजीयन प्रक्रिया को आरंभ कर दिया है। किसानों की पंजीयन प्रक्रिया सोमवार 5 फरवरी से संपूर्ण राज्य में आरंभ हो चुकी है जो कि तकरीबन 1 महीने तक यानी की 1 मार्च 2024 तक चलेगी। पंजीयन करने के लिए किसानों को राज्य सरकार की तरफ से एमपी ऑनलाइन, साइबर कैफे और कॉमन सर्विस सेंटर के अलावा ग्राम पंचायत एवं जन पंचायत की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। 

रबी विपणन वर्ष 2024-25 के लिए राज्य सरकार ने गेहूं की फसल को समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए सभी किसानों को यह पंजीयन प्रक्रिया अनिवार्य की है। बता दे कि राज्य में पंजीयन प्रक्रिया 5 फरवरी से आरंभ होकर 1 मार्च तक चलेगी जिसके बाद 15 मार्च से राज्य की मोहन यादव सरकार द्वारा किसानों से समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद शुरू हो जाएगी। वर्तमान में किसानों से रबी विपणन वर्ष 2024-25 में समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीदी प्रति क्विंटल 2275 रूपये के अनुसार की जाएगी। 

समर्थन मूल्य पर पंजीयन प्रक्रिया शुरू 

समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद के लिए राज्य सरकार ने किसानों के लिए पंजीयन प्रक्रिया सोमवार 5 फरवरी से आरंभ कर दी है। पंजीयन करने के लिए राज्य सरकार द्वारा राजधानी भोपाल में 169 लोक सेवा केंद्रों की स्थापना की गई ह, साथ ही किसान एमपी ऑनलाइन, साइबर कैफे, कॉमन सर्विस सेंटर के माध्यम या फिर ग्राम पंचायत भवन, जनपद पंचायत कार्यालय से पंजीयन प्रक्रिया पूर्ण कर सकते हैं। समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद के लिए पंजीयन प्रक्रिया 1 मार्च 2024 तक चलेगी। किसान तय समय सीमा से अपना पंजीयन सुनिश्चित कर लें । 

इस तरह बचें लंबी लाइन में लगने से  

समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद के लिए पंजीयन प्रक्रिया सोमवार 5 फरवरी से आरंभ हो गई है, जिसके बाद बड़ी संख्या में प्रदेश भर के किसान पंजीयन करने के लिए ग्राम पंचायत, जनपद पंचायत के साथ एमपी ऑनलाइन आदि केंद्रों पर जाकर पंजीयन कर रहे हैं। एकदम इतनी बड़ी संख्या में किसानों के जाने से पंजीयन केंद्रों में काफी लंबी-लंबी कतारें लग रही है, लेकिन इन सब लंबी लाइनों से बचने के लिए आपके बिना कहीं जाए मोबाइल ऐप की सुविधा का लाभ उठाना चाहिए। आप अपने मोबाइल के माध्यम से एमपी किसान एप, एमपी उपार्जन एप की सहायता से भी ऑनलाइन पंजीयन कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें –  मुख्यमंत्री मोहन यादव का ऐलान, 10 फरवरी को जारी होगी 9वीं किस्त

पंजीयन प्रक्रिया के दौरान आधार से लिंक बैंक अकाउंट ही लगाएं  

पंजीयन प्रक्रिया के दौरान किसानों को यह सलाह दी जाती है कि वह पंजीयन प्रक्रिया के समय पंजीकरण फार्म में सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक भरने के साथ-साथ अपने आधार नंबर से लिंक बैंक अकाउंट को ही लगाएं। ताकि गेहूं की खरीदी के समय सरकार को भुगतान करने में कोई समस्या ना हो सके, क्योंकि राज्य सरकार समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीदी का भुगतान सिर्फ लिंक बैंक अकाउंट से ही करती है। 

15 मार्च से समर्थन मूल्य पर होगी गेहूं की खरीदी 

1 मार्च 2024 तक पंजीयन प्रक्रिया समाप्त हो जाने के बाद 15 मार्च से समर्थन मूल्य पर राज्य सरकार द्वारा किसानों से गेहूं की खरीद आरंभ हो जाएगी। प्रदेश सरकार से मिली सूचना के अनुसार वर्तमान में सरकार किसानों से 2275 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से गेहूं की खरीदी करेगी। हालांकि यदि राज्य सरकार की तरफ से बोनस प्रदान किया जाता है तो समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीदी की राशि को 425 रुपए से बढ़ाने के साथ खरीदी की राशि को 2275 रुपए प्रति क्विंटल से बढ़ाकर 2700 रुपए प्रति क्विंटल कर दिया जाए। 

इसे भी पढ़ें –  मध्य प्रदेश में मंत्रिमंडल कैसे करेंगे परफेक्ट काम? मंत्रियों की पॉलिटिकल एक्सपर्ट के द्वारा होगी ट्रेनिंग

Author

  • Srajan Thakur

    मेरा नाम सृजन है और मुझे लिखना काफी पसंद है। मैं एक जिज्ञासु वक्तितित्व का हूँ इसलिए मैं सम्पूर्ण विषयों के ऊपर लेख लिखने में सक्षम हूँ। में एक पूर्ण रूप से लेखक कहलाता हूँ।

Leave a Comment

Your Website