इन महिलाओं को घर बैठे मिलेंगे 11 हजार रुपये, आप भी उठाएं केंद्र सरकार की इस योजना का फायदा

राज्य और केंद्र सरकार द्वारा कई जन कल्याणकारी योजनाओं को चलाया जा रहा है। जिन लोगों को इन योजनाओं के बारे में सही जानकारी समय पर मिल जाती है तो आप लाभ उठा लेते हैं। लेकिन अगर आपको केंद्र सरकार द्वारा संचालित इन योजनाओं की जानकारी समय पर नहीं मिलती है तो आप भी इनके लाभ से वंचित हो जाते हैं।

हाल ही में केंद्र सरकार द्वारा संचालित पीएम मातृत्व वंदना योजना पर अपडेट आया हुआ है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि केंद्र सरकार इस योजना के अंतर्गत 11 हज़ार रुपए सालाना महिलाओं को प्रदान करती है। ताकि बच्चों का पालन पोषण किया जा सके।

पीएम मातृत्व वंदना योजना 2024

पीएम मातृत्व वंदना योजना का लाभ आप घर बैठे ले सकते हैं। और इस योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार सालाना 11 हज़ार रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान करती है। ताकि बच्चों का पालन पोषण किया जा सके। पीएम मातृत्व वंदना योजना में आवेदन करने भी बेहद आसान है। आप ऑनलाइन वा ऑफलाइन दोनों तरीकों से आवेदन कर सकते हैं।

पीएम मातृत्व वंदना योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

पीएम मातृत्व वंदना योजना में आवेदन करने के लिए आवेदक के पास आयुषमान कार्ड, श्रम कार्ड, जॉब कार्ड, या पीएम किसान योजना का प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, राशन कार्ड, बीपीएल कार्ड, जाति प्रमाण पत्र और आय प्रमाण पत्र होना आवश्यक है। इसके साथ ही आपकी सालाना आय 8 लाख रुपए से कम होनी चाहिए।

यह भी पढ़ें – सीएम मोहन यादव का ऐलान, अग्निवीर भर्ती के लिए राज्य सरकार देगी फ्री ट्रेनिंग

पीएम मातृत्व वंदना योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का लाभ प्राप्त करने हेतु आपको पंजीकरण कराना अनिवार्य होगा। आप ऑनलाइन पोर्टल www.pmmvy.nic.in के माध्यम से रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। इसके बाद आपको विभागीय कार्यालय में जाकर कागजी कार्यवाही पूर्ण करनी होगी। और अगर आप ऑनलाइन आवेदन करने में असमर्थ हैं तो आपको नज़दीकी स्वास्थ्य केंद्र या नज़दीकी आंगनवाडी केन्द्र की आशा कार्यकर्ताओं से संपर्क करना होगा।

पीएम मातृत्व वंदना योजना का लाभ स्तनपान करने वाली महिलाओं को दिया जाएगा ताकि बच्चों का पालन पोषण बिना किसी आर्थिक समस्या से हो पाए। पीएम मातृत्व वंदना योजना का लाभ 3 किस्तों में दिया जाएगा। जिससे महिलाएं बच्चों की स्वास्थ्य संबंधित आवश्यकताओं को पूरा कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें – MP News: मुख्यमंत्री मोहन यादव ने तोड़ी परंपरा, मध्यप्रदेश के इतिहास में सबसे बड़ा बदलाव

Author

Leave a Comment

Your Website