Pensioners DR Hike MP: बड़ी राहत, साढ़े चार लाख पेंशनरों को 42 प्रतिशत की दर से मिलेगी महंगाई भत्ता

पेंशनधारकों को मध्यप्रदेश सरकार द्वारा दी जाने वाली महंगाई राहत में वृद्धि की जाने की घोषणा हो गई है। इस नए निर्णय के अनुसार सभी पेंशनधारकों को जुलाई, 2023 से महंगाई राहत की दर 38 प्रतिशत के बजाय की 42 प्रतिशत होगी। सितंबर में मिलने वाली पेंशन में चौथे वेतनमान में वृद्धि के साथ, चार प्रतिशत महंगाई राहत की वृद्धि शामिल होगी।

पहले, पेंशनधारकों को 38 प्रतिशत की दर पर महंगाई राहत प्राप्त होती थी। अब छठे वेतनमान में नौ प्रतिशत की वृद्धि के बाद, महंगाई राहत 42 प्रतिशत होगी। इस नई दर के परिणामस्वरूप, पेंशनधारकों को प्रतिमाह 290 रुपये से लेकर 8,000 रुपये तक का अतिरिक्त लाभ होगा। एक माह की एरियर पेंशनरों को नकद दिया जाएगा।

छत्तीसगढ़ सरकार की सहमति पर लागू हुआ यह नियम

शिवराज सरकार ने यह निर्णय छत्तीसगढ़ सरकार की सहमति पर लागू किया है, गुरुवार को वित्त विभाग प्रस्ताव पर मुख्यमंत्री ने महंगाई राहत वृद्धि के आदेश जारी कर दिए हैं, कर्मचारियों को जुलाई महीने की पेंशन मिल चुकी है, इस महीने पेंशनरों को राहत में वृद्धि के अनुसार अतिरिक्त राशि उसका भुगतान पेंशनरों को कर दिया जाएगा, अब प्रदेश में नई दर लागू होने के बाद कर्मचारियों और पेंशनरों का महंगाई भत्ता केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनरों के बराबर हो जाएगा।

मध्यप्रदेश के पेंशनर एसोसिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष गणेश जोशी जी का कहना है कि महंगाई भत्ता और महंगाई राहत तो बराबर हो गई है लेकिन एरियर देने में भेदभाव देखने को मिल रहा है, सरकारी कर्मचारियों को मिला ही नहीं है।

यह राहत आदेशानुसार 80 वर्ष या उससे अधिक वर्ष के व्यक्ति पर भी लागू होती है, इस प्रकार पेंशनरों को महंगाई भत्ते का लाभ सेवानिवृत्त, असमर्थता और क्षतिपूर्ति पेंशन पर भी लागू होगा, इसके अलावा परिवार पेंशन प्राप्त करने वाले को भी इसका लाभ मिलेगा, लेकिन जो पति या पत्नी मृत्यु के बाद सेवा में कार्यरत हैं, तो इस प्रकार के मामले में महंगाई राहत की पात्रता उनको नहीं मिलने वाली है।

यह भी पढ़ें – लाडली बहना योजना का दूसरा चरण सफलतापूर्वक पूर्ण, वंचित महिलाएं अब तीसरे चरण में करें आवेदन

वित्त विभाग ने यह प्रस्ताव बनाकर भेज दिया है, और अनुमान है कि इस हफ्ते यह आदेश भी जारी हो जाएगा, तो पेंशनरों को बढ़ा हुआ पैसा मिलने की उम्मीद को सरकार ने उजागर कर दिया है, इस प्रकार मध्य प्रदेश सरकार लगातार अपने प्रदेश के कर्मचारियों के बारे में घोषणाएं कर रही है, इसके अलावा भी मध्यप्रदेश में जनता को लेकर कैबिनेट बैठक में महत्वपूर्ण घोषणाएं की गई हैं, इन घोषणाओं में अब तक सबसे सर्वश्रेष्ठ योजना लाडली बहना योजना को माना गया है।

प्रदेश सरकार लगातार अपने प्रयास को जारी रखे हुए हैं, ताकि मध्यप्रदेश विकास और तरक्की की दिशा में आगे बढ़ सके, सरकार ने बहुत सारे महत्वपूर्ण ठोस कदम उठाए हैं, इसके अंतर्गत महिलाओं, बेटियों और गरीब परिवार के सदस्यों के लिए मध्यप्रदेश में अलग-अलग प्रकार की योजनाओं पर यहां की सरकार काम कर रही है, ताकि प्रत्येक व्यक्ति को योजनाओं का लाभ मिल सके, इसके लिए सेवकों को रखा गया है, और इस उद्देश्य से कि सभी का विकास हो सके, चाहे वह गरीब हो या अमीर इस पर सरकार काम कर रही है।

यह भी पढ़ें – मध्यप्रदेश शिवराज सरकार दे रही है काम सीखने के बदले में 10 हजार रुपए प्रतिमाह, आप भी कर सकते हैं घर बैठे आवेदन

Author

Leave a Comment

Your Website