MP News: 3 बच्चों वाले सरकारी कर्मचारियों की बढ़ी मुसीबत, मध्य प्रदेश सरकार ने उठाया ये बड़ा कदम

लोकसभा चुनाव के पहले सरकारी कर्मचारियों के महंगाई भत्ते और वेतनमान में बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है लेकिन इसके पहले ही एक बुरी खबर 3 बच्चे वाले सरकारी कर्मचारियों के लिए निकल कर आई है। जिसके बारे में आज हम यहां विस्तार से जानने वाले हैं।

मध्य प्रदेश सरकार ने उठाया बड़ा कदम

अगर आप मध्य प्रदेश के सरकारी कर्मचारी हैं और आपके अगर 3 बच्चे हैं तो आपकी नौकरी को भी खतरा है क्योंकि मध्य प्रदेश सरकार ने हाल ही में एक बड़ा कदम उठाया है जिसके तहत 3 बच्चों वाले सरकारी कर्मचारियों की मुसीबतें बढ़ाने वाली हैं।

हालाकि इसके पहले अन्य राज्यों के कर्मचारीयों और केंद्रीय कर्मचारियों के मामले में भी यह देखने को मिला है कि 3 बच्चों के होने पर सरकार नौकरी से बरखास्त कर देती है लेकिन अब मध्य प्रदेश की मोहन सरकार ने भी यह सख्त कदम उठाया है। और हाल ही में मध्य प्रदेश के भिंड जिले में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमें सरकारी कर्मचारी द्वारा 3 बच्चों की बात छुपाई गई थी जिसका खामियाजा आज भुगतना पड़ रहा है।

दरअसल भिंड जिले में सीएम राइस स्कूल में अंग्रेजी विषय के शिक्षक की हाल ही में नौकरी लगी थी लेकिन जब सरकार को पता चला कि उनकी तीन संतान है तो सीएम राइस स्कूल के उस शिक्षक की नियुक्ति निरस्त कर दी गई। सीएम राइस स्कूल में अतिथि शिक्षक के पद पर कार्यरत शिक्षक का नाम गणेश प्रसाद शर्मा था जिसकी हाल ही में माध्यमिक शिक्षा वर्ग 2 के तहत भर्ती हुई थी। जिसे फिलहाल में निरस्त कर दिया गया है।

दरअसल गणेश प्रसाद की नियुक्ति के बाद उनके खिलाफ शिकायत दर्ज हुई थी और जांच में पाया गया की 26 जनवरी 2001 के बाद उनकी तीसरी संतान है लेकिन जांच के दौरान यह पता चला की नियुक्ति के दौरान शिक्षक गणित प्रसाद द्वारा गलत जानकारी देकर नियुक्ति हासिल की गई थी इसी के चलते अब उन्हें निरस्त कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें – MP News: मुख्यमंत्री मोहन यादव ने जारी की लाभार्थी सूची, इन महिलाओं को मिलेगा लाभ

देखें 3 बच्चों को लेकर सरकारी नियम क्या हैं-

राज्य सरकार के नियमों के अनुसार 26 जनवरी 2001 के बाद अगर किसी भी सरकारी कर्मचारी की तीसरी संतान होती है तो उनकी सेवा को समाप्त कर दिया जाएगा। भले ही किसी भी प्रकार की परीक्षा पास कर अपनी योग्यता को प्रमाणित करने के बाद उम्मीदवार ने सरकारी नौकरी प्राप्त करी हो, यदि अगर वह तीन संतान के माता-पिता है तो तत्काल नियुक्ति से हटा दिया जाएगा।

तीन बच्चों को लेकर सरकारी कर्मचारियों के विषय में यह नियम लागू होने के बाद कई तरह के ऐसे मामले सामने आए हैं जिसमें सरकारी कर्मचारियों को तीन बच्चों के कारण से नौकरी गवानी पड़ी है। मध्य प्रदेश में जून 2023 में भी एक ऐसा ही मामला सामने आया था जिसमें बानो मंसूरी नामक एक सरकारी कर्मचारी की तीन संतान होने की वजह से उन्हें अपने पद से हटाया गया था।

इसे भी पढ़ें – मध्य प्रदेश सरकार ने दिखाई सख्ती, अब स्कूलों में एडमिशन लेना हुआ महंगा

Author

Leave a Comment

Your Website