Agniveer Bharti 2024: सीएम मोहन यादव का ऐलान, अग्निवीर भर्ती के लिए राज्य सरकार देगी फ्री ट्रेनिंग

मध्य प्रदेश की सरकार ने उन युवाओं के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी की बात बताई है। जो कि भारतीय सेना में अपना भविष्य बनाना चाहते है मध्य प्रदेश के जितने भी युवा अग्निवीर भर्ती के लिए ट्रेनिंग कर रहे हैं या भविष्य में ट्रेनिंग करना चाहते हैं। उनको अब मध्य प्रदेश सरकार फ्री ट्रेनिंग उपलब्ध कराएगी।

मध्य प्रदेश सरकार दे रही अग्निवीर भर्ती के लिए नि:शुल्क ट्रेनिंग

मध्य प्रदेश सरकार ने अग्निवीर सेना में जाने वाले युवाओं के लिए एक बहुत बड़ी खुशी की बात बताई है। जितने भी युवा अब अग्निवीर भर्ती के लिए तैयारी कर रहे हैं। उन सभी को अब मध्य प्रदेश सरकार ने सौगात दी है। बताया है कि ऐसे युवा जो भारतीय सेना में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं। उनको प्रदेश सरकार नि:शुल्क ट्रेनिंग देगी। इसके लिए प्रदेश सरकार 360 घंटे का निशुल्क प्रशिक्षण युवाओं को उपलब्ध कराएगी।

युवाओं के लिए एक सुनहरा अवसर

मध्य प्रदेश के युवाओं के लिए अब प्रदेश सरकार ने एक अवसर प्रदान किया है। इस अवसर के अनुसार मध्य प्रदेश के युवा निशुल्क ट्रेनिंग प्राप्त करेंगे। यह ट्रेनिंग युवाओं को अग्निवीर भर्ती परीक्षा के लिए तैयारी करने में मददगार साबित होगी। जितने भी युवा भारतीय सेना में जाने के लिए पात्र साबित होंगे। वह सभी युवा इस ट्रेनिंग को करके भारतीय सेना में अपना उज्जवल भविष्य बना सकते हैं।

जैसे कि मध्य प्रदेश में प्रदेश सरकार हर वर्ग के लोगों को योजनाओं के माध्यम से लाभान्वित कर रही है। इसी प्रकार से प्रदेश सरकार ने अब युवाओं के लिए भी एक बहुत अच्छी घोषणा जारी की है। ताकि गरीब परिवार के युवा भी भारतीय सेना में भर्ती के लिए तैयारी कर सके और भारतीय सेना में अपना भविष्य बना सके।

यह भी पढ़ें – MP News: अंतरिम बजट पर बोले मुख्यमंत्री मोहन यादव: युवा, किसान, महिला और गरीबों पर रखा गया ध्यान…

अग्निवीर भर्ती क्या है

अग्निवीर भर्ती में देश के महिला और पुरुष दोनों ही आवेदन कर सकते हैं। इस भर्ती की अवधि केवल 4 साल तक होती है। जानकारी के लिए बता दे की अग्निवीर भर्ती का कार्यकाल केवल चार वर्ष ही रखा गया है। 4 वर्ष के बाद युवाओं की प्रतिभा के अनुसार रक्षा मंत्रालय उन्हें नियमित करने के बारे में विचार करेगी।

अग्निवीर सैनिकों का कार्यकाल समाप्त होने के बाद प्रतिभा के अनुसार नियमित किया जाएगा। जिसमें 25 प्रतिशत अग्निवीर सैनिकों को ही नियमित किया जाएगा। इसके लिए सरकार ने केवल 25% अग्निवीरों को ही भविष्य में स्थाई रूप से सेवा करने का प्रावधान बताया है। इसके अलावा जो 75 प्रतिशत अग्निवीर सैनिक हैं उनकी सेवा समाप्त कर दी जाएगी। और इसके बाद यह 75 प्रतिशत अग्निवीर सैनिक भारतीय सेना जैसे पुलस, अर्ध सैनिक और अन्य जगह पर नौकरी के लिए अपना आवेदन कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें – MP News: मुख्यमंत्री मोहन यादव ने तोड़ी परंपरा, मध्यप्रदेश के इतिहास में सबसे बड़ा बदलाव 

Author

Leave a Comment

Your Website