क्या वाकई बंद होगी लाड़ली बहना योजना, आठवीं किश्त देने में हुई मोहन सरकार की हालत ख़राब

लाडली बहन योजना जिसकी शुरुआत पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की थी, आज उसका बोल बाला मध्य प्रदेश सहित संपूर्ण भारत में हो रहा है, पर क्या यह महत्वाकांक्षी योजना अब बंद हो जाएगी? दोस्तों जैसा कि आप सब जानते हैं बीजेपी ने विधानसभा चुनाव में इकलौती लाडली बहना योजना के बल पर प्रचंड विजय हासिल की थी, क्योंकि पूर्व सीएम शिवराज ने प्रदेश की महिलाओं को यह विश्वास दिलाया था कि उन्हें योजना का लाभ निरंतर उपलब्ध कराया जाएगा। 

मुख्यमंत्री पद से हटने के बाद भी शिवराज सिंह चौहान लगातार बहनों को यह आश्वासन देते आ रहे हैं कि उन्हें योजना का लाभ निरंतर अपनी निर्धारित तारीख से उपलब्ध कराया जाएगा। एक तरफ जहां पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज प्रदेश की महिलाओं को लगातार योजना के लाभ के दिलासे दिए जा रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस योजना को लेकर लगातार संशय जता रही है। 

अभी हाल ही में मामा शिवराज ने अपनी खुशी व्यक्त करते हुए कहा था कि उन्हें खुशी है की लाडली बहना योजना की राशि अपनी निर्धारित तारीख 10 जनवरी से महिलाओं को उपलब्ध कराई जाएगी, पर विपक्षीय नेता उमंग सिंघार ने मामा से सवाल करते हुए पूछा की लाडली बहना योजना बंद करने का अंदेशा सही निकल रहा है सरकार के लिए योजना में पैसे देने का संकट सामने खड़ा है, इसके साथ ही उन्होंने लिखा… “कहां है आप मामा जी बहनों के लिए कुछ तो करिए”। 

प्रतिपक्ष नेता उमंग सिंघार के मामा से सवाल  

लाडली बहना योजना को लेकर कांग्रेस लगातार अटकलें लगाई जा रही है की योजना को बंद कर दिया जाएगा, जिसके साथ ही प्रतिपक्ष नेता उमंग सिंघार ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर लाडली बहना योजना से जुड़े सवाल मामा से पूछते हुए लिखा “लाड़ली बहना योजना बंद करने का अंदेशा सही निकल रहा है। सरकार के लिए योजना में पैसे देने का संकट सामने खड़ा है। 

प्रदेश में नई सरकार बनने के बाद जनवरी की 8वीं किस्त के लिए 1,596 करोड़ रुपए का इंतजाम बड़ी मुश्किल से हो पाया है, 10 जनवरी को तो लाड़ली बहनों के खाते में 1250 रुपए की राशि जैसे तैसे आ जाएगी लेकिन, फरवरी की किस्त को लेकर विभाग बेहद परेशान और असमंजस में है। महिला एवं बाल विकास विभाग ने वित्त विभाग से फरवरी की किस्त जारी करने के लिए बजट मांगा है। जबकि, वित्त विभाग ने 38 से अधिक योजनाओं में बिना अनुमति वित्तीय आहरण पर पहले ही रोक लगा दी गई है। कहा है आप मामा जी! बहनों के लिए कुछ तो करिए!’ 

मामा शिवराज ने कही थी योजना के संचालन की बात  

अभी बीते दो दिन पहले मामा शिवराज ने लाडली बहना योजना की आठवीं किस्त की राशि महिलाओं को प्राप्त होने को लेकर अपनी खुशी को साझा करते हुए कहा था कि “मुझे खुशी है कि योजनाएं जारी रहेगी और 10 तारीख को फिर लाड़ली बहना के खाते में पैसा आएगा और हमारा संकल्प ये भी है कि लाड़ली बहनों को लखपति बहना बनाना है..ये केवल कहने के लिए मैंने नहीं कहा था उसके लिए मैं भी निरंतर काम करूंगा और मुख्यमंत्री जी भी उस दिशा में, सरकार भी उस दिशा में प्रयत्न करेंगी।

प्रधानमंत्री जी ने भी चार जातियां कही है उनमें गरीब, किसान, महिला, युवा शामिल है। तो महिला सशक्तिकरण मेरे भी जीवन का मिशन है और हमारी सरकार का भी मिशन है”। मामा शिवराज की इस बात के बाद बहनों सहित उनके भांजे भांजियाँ भी बीजेपी से आनेको उम्मीदें लगा रही हैं। 

इसे भी पढ़ें –  लाड़ली बहना योजना आठवीं किस्त के साथ रसोई गैस सब्सिडी चार्ट तैयार, जल्दी देखें

क्या लाड़ली बहनों को मिल पाएगी फरवरी में किस्त  

मामा शिवराज चाहे लाडली बहनों को कितने ही दिलासे क्यों ना दे दें पर इस बात को मानने से इनकार नहीं कर सकते कि राज्य सरकार के पास लाडली बहना योजना के संचालन के लिए राशि कम पड़ रही है। वर्तमान में 8वीं किस्त के लिए तो जैसे तैसे करके मोहन यादव सरकार ने 1596 करोड रुपए का इंतजाम कर लिया पर अगले महीने फरवरी की 9वी किस्त प्रदान करने से संबंधित कोई भी जानकारी अभी सरकार के पास भी नहीं है की लाभार्थियों को राशि उपलब्ध होगी भी या नहीं। 

Author

  • Srajan Thakur

    मेरा नाम सृजन है और मुझे लिखना काफी पसंद है। मैं एक जिज्ञासु वक्तितित्व का हूँ इसलिए मैं सम्पूर्ण विषयों के ऊपर लेख लिखने में सक्षम हूँ। में एक पूर्ण रूप से लेखक कहलाता हूँ।

    View all posts

Leave a Comment

Your Website