Mahtari Vandana Yojana: महिलाओं की चमकी किस्मत, 8 मार्च को फिर मिलेंगे 1 हजार रुपये, अभी देखें लिस्ट में नाम

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई लाडली बहना योजना से प्रेरित होकर छत्तीसगढ़ सरकार ने भी एक नई योजना की शुरुआत की है जिसका नाम महतारी वंदन योजना है। इस योजना के अंतर्गत सालाना ₹12000 की आर्थिक सहायता राशि राज्य की महिलाओं को देने का वादा किया गया।

महतारी वंदन योजना 2024

महतारी वंदन योजना में आवेदन करने वाली महिलाओं को 8 मार्च को पहले किस्त की राशि ट्रांसफर की जाएगी इसके लिए अंतिम सूची जारी कर दी गई है और सभी महिलाओं को डीबीटी सक्रिय करने के लिए भी कहा गया है। आज के इस आर्टिकल में हम महतारी वंदन योजना की पात्र सूची और डीबीटी, सहायक दस्तावेज, पहली किस्त सहित सभी जानकारी विस्तार से जानने वाले हैं।

महतारी वंदन योजना की शुरुआत छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा की गई है। ताकि महिलाओं को आत्मनिर्भर, सशक्त एवं आर्थिक रूप से मजबूत बनाया जा सके इस योजना के जरिए महिलाओं को सालाना ₹12000 की आर्थिक सहायता और प्रतिमाह ₹1000 की आर्थिक सहायता राशि देने का वादा किया गया है राज्य सरकार ने 5 फरवरी से 20 फरवरी तक आवेदन स्वीकार किए जिसमें लगभग 70 लाख महिलाओं ने आवेदन किया।

8 मार्च को जारी होगी पहली किस्त

महतारी वंदन योजना की पहली किस्त 1 मार्च को जारी की जानी थी लेकिन राज्य सरकार ने आधिकारिक तौर पर यह जानकारी देते हुए बताया कि 8 मार्च को पात्र महिलाओं के खाते में ₹1000 की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी। और इसके लिए महिलाओं के बैंक खाते में आधार लिंक और डीबीटी सक्रिय होना आवश्यक है। इसके साथ ही राज्य सरकार ने पात्र महिलाओं की सूची जारी की है जिसमें आप अपना नाम बहुत आसानी से देख सकते हैं।

यह भी पढ़ें – मध्य प्रदेश नगर पालिका में निकली 700 पदों पर भर्ती, अभी करें ऑनलाइन आवेदन

महतारी वंदन योजना की पात्र सूची देखें

महतारी वंदन योजना की पात्र सूची राज्य सरकार ने जारी कर दी है अगर आप भी पात्र सूची पर एक नजर डालना चाहते हैं तो आपको महतारी वंदन योजना की आधिकारिक वेबसाइट mahtarivandan.cgstate.gov.in/ पर जाना होगा। फिर मेनू में दिए गए “अंतिम सूची” के विकल्प पर क्लिक कर स्थानीय निकाय का चुनाव करना होगा। और फिर आपके द्वारा सेलेक्ट किए गए स्थान की सूची आपको प्रर्दशित की जाएगी।

महतारी वंदन योजना DBT सक्रिय कराना अनिवार्य

महतारी वंदन योजना का प्रत्यक्ष लाभ प्राप्त करने हेतू DBT सक्रिय कराना अनिवार्य है। और इसी कारण से बैंकों में लम्बी कतारे देखने को मिल रही हैं। बीते सप्ताह छत्तीसगढ़ के भिलाई और दुर्ग में बैंकों में भीड़ देखने को मिली जिसके बाद से दुर्ग कलेक्टर रिचा प्रकाश चौधरी ने आज रविवार को भी बैंक खोले जानें के निर्देश दिए। ताकि सभी महिलाओं का डीबीटी समय रहते सक्रिय किया जा सके।

यह भी पढ़ें – मध्य प्रदेश सरकार के कर्मचारियों के महंगाई भत्ते का प्रस्ताव तैयार, मुख्यमंत्री मोहन यादव इस तारीख से देंगे बढ़ा हुआ डीए

Author

Leave a Comment

Your Website