कैबिनेट बैठक में महतारी वंदन योजना को मिली मंजूरी, इस योजना से भी बहनों को मिलेंगे हर महीने 1000 रुपये

मुख्यमंत्री विष्णु देव साहित्य अध्यक्षता में 31 जनवरी बुधवार को कैबिनेट मीटिंग हुई जिसमें CM विष्णु देव साय सहित अन्य मंत्रिमंडल के समक्ष कई अहम फैसले लिए गए। छत्तीसगढ़ सरकार ने भारतीय जनता पार्टी के संकल्प पत्र और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक गारंटी को पूरा करते हुए कैबिनेट बैठक में राज्य के तेंदूपत्ता संग्राहक परिवारों के कल्याण के लिए महत्वपूर्ण निर्णय लिए है। 

छत्तीसगढ़ सरकार ने प्रदेश की महिलाओं को लाभ पहुंचाने के लिए कैबिनेट बैठक में महतारी वंदन योजना को शुरू करने का अहम फैसला लिया। विष्णु देव साय की इस सातवीं कैबिनेट मीटिंग में महतारी वंदन योजना के तहत महिलाओं को सालाना ₹12000 देने का निर्णय लिया गया, इसके साथ ही कैबिनेट बैठक में तेंदुआ पता संग्रहक दर को ₹4000 प्रति मानक बोरा से बढ़ाकर ₹5500 प्रति बोरा करने की घोषणा की गई। 

महतारी वंदन योजना को मंजूरी 

बुधवार 31 जनवरी को हुई छत्तीसगढ़ सरकार की सातवीं कैबिनेट बैठक में महिलाओं के हित के लिए मेहतारी वंदन योजना को मंजूरी दी गई। इस योजना के तहत महिलाओं को प्रतिमाह ₹1000 की आर्थिक सहायता राशि उपलब्ध कराई जाएगी। महिलाओं को सालाना ₹12000 की राशि सीधे उनके बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाएगी। इस योजना का लाभ विवाहित महिलाओं से लेकर तलाकशुदा, विधवा और परित्यक्ता महिलाओं को मिलेगा। 

तेंदूपत्ता संग्रहकों के लिए बड़ी घोषणा 

भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गारंटी को पूरा करने के लिए छत्तीसगढ़ की विष्णु देव साय सरकार ने तेंदूपत्ता संग्रहक परिवारों को लाभ पहुंचाने के लिए एक अहम फैसला लेते हुए घोषणा की है। कैबिनेट द्वारा लिए गए इस महत्वपूर्ण निर्णय के अनुसार तेंदूपत्ता संग्रहकों संग्रहण पारिश्रमिक ₹4000 प्रति बोरा उपलब्ध कराया जाता था जिसको अब ₹5500 प्रति मानक बोरा करने का निर्णय लिया गया है। 

कैबिनेट ने किया वाहन पंजीयन लागू 

छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री विष्णु देव साय की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय को स्वीकृति दी गई, उन्ही अहम फैसलों में से एक है दो पहिया और चार पहिया वाहनों का पंजीयन। कैबिनेट ने छत्तीसगढ़ राज्य में भारत (BH) सीरीज में आने वाले वाहनों पर पंजीयन लागू करने की घोषणा की है। जारी निर्देशों के मुताबिक अब BH सीरीज के सभी दो पहिया से लेकर चार पहिया वाहनों को एक बार में दो वर्षों का टैक्स देना होगा। 

इसे भी पढ़ें –  फरवरी को देश भर में लगेगा रोजगार मेला, 51 हजार युवाओं को मिलेगा नियुक्ति पत्र

Author

  • Srajan Thakur

    मेरा नाम सृजन है और मुझे लिखना काफी पसंद है। मैं एक जिज्ञासु वक्तितित्व का हूँ इसलिए मैं सम्पूर्ण विषयों के ऊपर लेख लिखने में सक्षम हूँ। में एक पूर्ण रूप से लेखक कहलाता हूँ।

Leave a Comment

Your Website