लाड़ली बहना योजना से जुड़ी महिलाओं की संख्या हो रही कम, जानिए क्या है वजह

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव जी ने लाड़ली बहना योजना की आठवीं किस्त 1.30 करोड़ महिलाओं के बैंक खाते में 1576.61 करोड रुपए ट्रांसफर कर दिए हैं। सभी महिलाओं को लाड़ली बहना योजना की आठवीं किस्त 10 जनवरी 2024 को उनके बैंक खाते में डीबीटी के माध्यम से भेज दिए गए हैं।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कांग्रेस पर क्यों बरसे

हालांकि इस बार लाभार्थी महिलाओं की संख्या 2 लाख कम कर दी गई है। इस बात को लेकर कांग्रेस सरकार ने भारतीय जनता पार्टी पर सवाल उठा रही है। इसी बात पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव जी कांग्रेस सरकार पर खूब बरस गए। मुख्यमंत्री जी का कहना है कि जब तक आपको किसी बात का कोई सही कारण पता नहीं है तब तक आप किसी पर उंगली कैसे उठा सकते हैं।

मुख्यमंत्री जी ने लाडली बहनों की संख्या कम करने पर कही यह बात

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव जी ने लाडली बहनों की संख्या कम होने पर यह बात कही के जितने भी अपात्र महिलाएं थी। उनको लाड़ली बहना योजना से हटा दिया गया है। इसके कई वजह थी इसके कई कारण थे जैसे कई महिलाएं ऐसी हैं। जिनकी आयु 60 साल से अधिक है। अब ऐसे में 60 साल से अधिक आयु की महिला को वृद्धा पेंशन मिलती है।

जबकि लाड़ली बहना योजना के अंतर्गत पात्रता सूची में महिलाओं की आयु 21 से 60 वर्ष मान्य है। इसके अलावा लाड़ली बहना योजना से जुड़ी कई महिलाएं ऐसी हैं। जिनकी मृत्यु हो चुकी है तो उन महिलाओं का नाम भी सूची से हटाना बहुत जरूरी था। और भी कई अन्य वजह हैं जिसके कारण से लाडली बहनों का नाम लाड़ली बहना योजना से हटा दिया गया है। कुल मिलाकर यह बात जो महिलाएं लाड़ली बहना योजना के लिए पात्रता साबित नहीं है।

यह भी पढ़ें – Ladli Bahna Yojana: अगर आपके खाते में भी नहीं आई आठवीं किस्त तो जल्दी करें यह काम

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री जी ने कांग्रेस को पलटकर दिया जवाब

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री जी ने कांग्रेस को कहा कि उनके पेट में इतना दर्द क्यों हो रहा है। जबकि भारतीय जनता पार्टी लाड़ली बहनों को इतनी बड़ी रकम हर महीने दे रही है। और ऐसा नहीं है इसके साथ ही मुख्यमंत्री जी ने कहा कि हम हर महीने लाड़ली बहनों के बैंक अकाउंट में धनराशि ट्रांसफर करते हैं। और भविष्य में भी करते रहेंगे। इसके साथ ही मुख्यमंत्री जी ने यह दावा भी किया कि क्या कांग्रेस ने कभी इस प्रकार से महिलाओं की मदद की है। जब हम महिलाओं की मदद करने के लिए सामने आए हैं।

तो आपको यह बात हजम नहीं हो रही है। हालांकि इस बार 2 लाख महिलाओं को योजना से वंचित किया गया है। उसके कुछ मुख्य कारण थे। और हम भविष्य में लाड़ली बहना योजना का तीसरा चरण भी शुरू करेंगे हम चाहते हैं। कि भविष्य में ज्यादा से ज्यादा महिलाएं लाड़ली बहना योजना का लाभ ले। और गरीब परिवार की महिलाओं को प्रदेश सरकार की तरफ से आर्थिक सहायता मिल सके।

यह भी पढ़ें – शिवराज के बाद अब बहनों के नए लाडले भैया बने मोहन यादव, आठवीं किस्त के साथ मिला बड़ा तोहफा

Author

Leave a Comment

Your Website