लाड़ली बहना योजना तलाकशुदा और विधवा महिलाएं बनी फिर से शादीशुदा जांच में सामने आई ये बात

लाड़ली बहना योजना से जुड़ी एक बहुत बड़ी खबर सामने आ रही है जांच के दौरान पता चला है कि बहुत सी महिलाएं तलाकशुदा और विधवा होने के बाद भी शादीशुदा बनना पड़ा ऐसा क्यों हुआ इसके पीछे क्या कारण है आइये आगे हम इस बारे में बात करते हैं। 

आपको बता दें कि बहना योजना के लिए आवेदन फॉर्म की तिथि समाप्त हो चुकी है आवेदन करने की तिथि 30 अप्रैल रखी गई थी और इस अपने अंतिम तिथि तक बहना योजना के आवेदन का लक्ष्य हासिल कर लिया गया है। लाड़ली बहना योजना के लिए कुल 1 करोड़ 25 लाख से जायदा आवेदन भरे गए हैं। 

जैसा की हमने बताया इस योजना का लाभ लेने के लिए तलाकशुदा एवं विधवा महिलाओं को पात्रता दिया गया था परन्तु जब वो आवेदन करने के लिए पहुचतो पोर्टल द्वारा तलाकशुदा एवं विधवा महिलाओं का आवेदन स्वीकार नहीं किया जा रहा था ऐसे में अधिकारियों का कहना था कि यह एक तकनीकी खराबी के कारण हुआ है। 

लाडली बहना योजना का लाभ केवल विवाहित महिलाओं को ही दिया जा रहा है और आवेदनों की जांच के दौरान बहुत सी आवेदन ऐसे मिले हैं जिनमें आधार कार्ड या समग्र आईडी कार्ड में पिता का नाम दर्ज है तो ऐसे में उन्हें शादीशुदा नहीं माना गया है जिसके चलते उनका फॉर्म रिजेक्ट कर दिया गया, क्योंकि शादीशुदा महिलाओं के आधार कार्ड में उनके पति का नाम लिखा होता है। 

यह भी पढ़ें –  पैन कार्ड और आधार कार्ड SMS भेज कर लिंक करें 

परन्तु बात ये है कि जो महिला तलाकशुदा है या विधवा है तो उन महिलाओं को अपने दस्तावेजों में पिता का नाम की जगह पति का नाम जुड़वाना पड़ा ताकि उन महिलाओं का आवेदन स्वीकार किया जा सके एवं पोर्टल पर अपलोड किया जा सके। इसके लिए सभी महिलाएं अपने दस्तावेजों को पुनः अपडेट करा रही है अपने पिता की नाम की जगह पति का नाम दर्ज करा रही है ताकि उन्हें भी बहना योजना का लाभ मिल सके। 

इसी कारण से मध्य प्रदेश की विधवा एवं तलाकशुदा महिलाओं को शादीशुदा होना पड़ा वरना इन महिलाओं को लाड़ली बहना योजना का लाभ नहीं मिल पता और ये इस योजना से वंचित रह जाती। 

तो इस तरह की बहुत सी परेशानियां हैं जो अब सामने निकलकर आ रही है और उनका निवारण किया जा रहा है इसके लिए सरकार ने खास अपने पोर्टल पर आपत्ति दर्ज करने की प्रक्रिया को चालू किया है जिससे जिस भी महिला को बहना योजना के संबंध में किसी भी प्रकार की आपत्ति है तो वह पोर्टल में जाकर अपनी आपत्ति दर्ज करा सकती है। 

यह भी पढ़ें –  लाड़ली बहना योजना इस दिन आएगा आपके बैंक खाते में पहली किश्त जानिये नया अपडेट

Author

  • Karan Sharma

    मेरा नाम करण है और मैं apnakal.com वेबसाइट के लिए आर्टिकल लिखता हूं। हिंदी लिखने का मेरा जुनून है जो मुझे सब कुछ के बारे में लिखने के लिए प्रेरित करता है।

Leave a Comment

Your Website