Ladli Bahna Yojana: अगर आपके खाते में भी नहीं आई आठवीं किस्त तो जल्दी करें यह काम

मध्य प्रदेश में लाड़ली बहना योजना के तहत मिलने वाली धनराशि सभी महिलाओं को हर महीने की 10 तारीख को उनके बैंक खाते में डीबीटी के माध्यम से भेजी जाती है। लाड़ली बहना योजना की अब तक 8 किस्त महिलाओं को सफलतापूर्वक दी जा चुकी हैं। बता दे कि जिन महिलाओं को आठवीं किस्त नहीं मिली है उनको इसके लिए यह काम करना बहुत जरूरी है। ताकि उनको हर महीने मिलने वाली किस्त आने में किसी भी प्रकार की समस्या ना हो। यदि आपने यह काम नहीं किया तो आपकी किस्त अटक सकती है।

लाड़ली बहना योजना किस्त अटकने के कारण क्या है

लाड़ली बहना योजना की किस्त अटकने के बहुत सारे कारण हो सकते हैं। जिन महिलाओं को अभी तक लाड़ली बहना योजना की आठवीं किस्त नहीं मिली है। उनको परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है। क्योंकि बहुत सारी वजह के कारण आपकी किस्त अटक जाती है। इसके लिए महिलाओं को अपना डीबीटी एक्टिव करना बहुत जरूरी है। और अपना ई केवाईसी भी सक्रिय करवाना बहुत आवश्यक है। ताकि हर महीने मिलने वाली आर्थिक सहायता धनराशि आपको निरंतर मिलती रहे।

लाड़ली बहना योजना की किस्त अटकने पर क्या करें

जिन महिलाओं की लाड़ली बहना योजना की आठवीं किस्त अटक गई है। वे सभी महिलाएं अपनी शिकायत लाड़ली बहना योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर दर्ज कर सकती हैं। इसके अलावा महिलाओं को अपना ई केवाईसी भी चेक करना बहुत जरूरी है। यदि आपके बैंक खाते में ई केवाईसी सक्रिय नहीं है। तो आपकी किस्त अटकने की संभावना हो सकती है। बता दे कि महिलाओं को अपना डीबीटी भी एक्टिव करना बहुत जरूरी है। क्योंकि आपको लाड़ली बहना योजना के तहत मिलने वाली धनराशि डीबीटी के माध्यम से ही भेजी जाती है।

सभी महिलाओं को जानकारी के लिए बता दें कि महिलाएं लाड़ली बहना योजना के तहत आर्थिक सहायता ले रही हैं। उन सभी को अपना डीबीटी और ई केवाईसी का विशेष रूप से ध्यान रखना है इनका एक्टिवेट होना बहुत जरूरी है। यदि आपने यह सब काम कर लिया तो आपकी किस्त आने से कोई नहीं रोक सकता है।

यह भी पढ़ें – शिवराज के बाद अब बहनों के नए लाडले भैया बने मोहन यादव, आठवीं किस्त के साथ मिला बड़ा तोहफा 

लाड़ली बहना योजना से 2 लाख महिलाओं के नाम हटा दिए गए

लाड़ली बहना योजना से 2 लाख लाड़ली बहनों के नाम हटा दिए गए हैं। जानकारी के लिए बता दें कि लाड़ली बहना योजना के तहत जितनी भी अपात्र महिलाएं थी। उनका नाम पात्रता सूची से हटा दिया गया है। क्योंकि इनमें से कई महिलाएं ऐसी थी जो कि लाड़ली बहना योजना के लिए पात्रता साबित नहीं थी। क्योंकि इनमें से कई महिलाएं ऐसी थी जिनकी मृत्यु हो चुकी है।

और कई महिलाएं ऐसी थी जिनकी आयु 60 वर्ष से अधिक हो चुकी है। ऐसी स्थिति में 60 वर्ष से अधिक आयु की महिलाओं को वृद्धा पेंशन मिलती है। तो उनको लाड़ली बहना योजना के लाभ से वंचित कर दिया गया है।और भविष्य में भी ऐसी महिलाओं को लाड़ली बहना योजना का लाभ नहीं मिलेगा। और ना ही ऐसी महिलाएं लाड़ली बहना योजना के तीसरे चरण के लिए फॉर्म भर सकती हैं।

यह भी पढ़ें – इंटरव्यू में जाने से पहले PMKVY सर्टिफिकेट जरूर कर लें डाउनलोड, नि:शुल्क प्रशिक्षण

Author

Leave a Comment

Your Website