MP News: कमलनाथ अपने बेटे नकुलनाथ के संग होंगे BJP में शामिल, बैठक के लिए पहुंचे दिल्ली  

देश में लोकसभा चुनाव को होने में अब कुछ ही दिनों का समय बचा है ऐसे में बीजेपी के साथ टक्कर का मुकाबला करने वाली विपक्ष कांग्रेस सरकार पूरी तरह से खत्म होती नजर आ रही है। जहां एक तरफ दिन प्रतिदिन कांग्रेस के विधायक गिरते जा रहे हैं और पार्टी कमजोर होती जा रही है तो वहीं दूसरी तरफ बीजेपी विकराल रूप धारण करके कांग्रेस को लगातार एक के बाद एक बड़े झटके देती जा रही है। 

हाल ही में मिली सूचना के मुताबिक कांग्रेस को एक और बड़ा झटका लग सकता है क्योंकि कांग्रेस के जाने-माने नेता और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ अपने बेटे नकुलनाथ के साथ भाजपा में शामिल हो सकते हैं। वहीं यह भी अटकलें तेज हो गई है कि कमलनाथ – नकुलनाथ संग तकरीबन एक दर्जन कांग्रेस विधायक वर्तमान सरकार छोड़कर  बीजेपी की सदस्य ले सकते हैं। नेता कमलनाथ सहित लगभग एक दर्जन कांग्रेस के नेता बीजेपी में शामिल होने के लिए दिल्ली पहुंच चुके हैं। 

BJP में शामिल होने के सवाल पर नहीं किया इनकार  

राज्य में तेजी से चर्चा का विषय बना हुआ कमल नाथ का बीजेपी में शामिल होने का मुद्दा इस वक्त काफी सुर्खियों में है। बताया जा रहा है कि जल्द ही कांग्रेस के विश्वसनीय नेता और पूर्व अध्यक्ष कमलनाथ अपने बेटे नकुलनाथ और 10 -12 विधायकों और एक मेयर के साथ बीजेपी का दामन थाम सकते हैं। वहीं जब मीडिया द्वारा कमलनाथ से यह सवाल किया गया कि क्या वह बीजेपी ज्वाइन कर रहे हैं तो इसके जवाब में उन्होंने स्पष्ट रूप से इनकार ना करते हुए कहा “आप सब लोग इतना उत्साहित क्यों हो रहे हैं, यदि ऐसा कुछ होता है तो वह सबसे पहले सूचित करेंगे”। 

जल्द ही ले सकते हैं बीजेपी की सदस्यता 

जैसे-जैसे समय बीत रहा है कमलनाथ- नकुलनाथ संग अन्य एक दर्जन विधायकों की बीजेपी में शामिल होने की अटकलें भी तेज होती जा रही है। बताया जा रहा है कि कमलनाथ अपनी पूरी टीम के साथ भाजपा की सदस्यता लेने के लिए दिल्ली पहुंच चुके हैं। वह जल्द ही बीजेपी के साथ बैठक करके किसी बड़े भाजपा नेता द्वारा पार्टी की सदस्यता हासिल कर सकते हैं। 

राज्य सभा सीट न मिलने से नाराज है कमलनाथ  

जैसा कि सब जानते हैं कमलनाथ शुरू से ही मध्य प्रदेश में कांग्रेस की ढाल रहे हैं। कांग्रेस की तरफ से वह ही CM के पद पर खड़े हुए हैं और बीजेपी के साथ टक्कर का मुकाबला करते आए हैं, पर सियासी गरमा-गर्मी के बीच यह चर्चाएं भी तेज हो गई है कि कमलनाथ कांग्रेस द्वारा राज्यसभा सीट न देने से नाराज थे, उसका कारण 17 नवंबर 2023 को हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की करारी हार मान जा रहा था। कांग्रेस की हार से राहुल गांधी कमलनाथ से काफी नाराज थे जिस वजह से उन्होंने कमलनाथ को राज्यसभा नहीं भेजा। 

इसे भी पढ़ें –  पुरानी पेंशन योजना की मांग को लेकर देशभर में कर्मचारियों का आंदोलन

Author

  • Srajan Thakur

    मेरा नाम सृजन है और मुझे लिखना काफी पसंद है। मैं एक जिज्ञासु वक्तितित्व का हूँ इसलिए मैं सम्पूर्ण विषयों के ऊपर लेख लिखने में सक्षम हूँ। में एक पूर्ण रूप से लेखक कहलाता हूँ।

    View all posts

Leave a Comment

Your Website