UPI पेमेंट यूजर्स के लिए खुशखबरी, अब 1 लाख नहीं 5 लाख तक कर सकेंगे पेमेंट  

भारत के नागरिक बहुत तेजी से कैशलेस पेमेंट और डिजिटल इंडिया की तरफ बढ़ रहे हैं ऐसे में केंद्र सरकार ने भी कैशलेस पेमेंट को बढ़ावा देते हुए UPI पेमेंट लिमिट में कुछ बदलाव किए हैं जो UPI पेमेंट यूजर्स के लिए काफी लाभदायक साबित हो सकते हैं, दरअसल अब UPI पेमेंट यूजर्स 1 लाख से 5 लाख तक की ऑनलाइन UPI पेमेंट कर सकते हैं। 

ऑनलाइन कैशलेस पेमेंट करने के काफी लाभ और पारदर्शिता है पर इस ऑनलाइन पेमेंट में एक समस्या थी वह यह कि इसमें पेमेंट की लिमिट निर्धारित थी जिस वजह से यूजर्स 1 लाख से अधिक की पेमेंट नहीं कर पाते थे यह रोक केंद्र सरकार द्वारा लगाई गई थी पर अब NPCI (National Payment Corporation of India ) ने RBI (Reserve Bank of India) के साथ मिलकर इस पेमेंट लिमिट को हटाकर 1 लाख से 5 लख रुपए कर दिया है।

हालांकि यह सुविधा सभी UPI पेमेंट के सभी यूजर्स के लिए नहीं रहेगी। UPI पेमेंट से जुड़े इस बदलाव की संपूर्ण जानकारी पता करने के लिए इसलिए को अंत तक पढ़े। 

पेमेंट लिमिट हुई 1 लाख से 5 लाख  

UPI पेमेंट को लोग काफी हद तक पसंद कर रहे थे और बहुत तेजी से इसको बढ़ावा दे रहे थे जिसकी पेमेंट लिमिट पर रोक लगाते हुए 1 लाख तक की सीमा निर्धारित कर दी गई थी जिससे बड़ी पेमेंट वाले यूजर्स को लेनदेन के दौरान कई समस्याएं आ रही थी, यूजर की सभी समस्याओं का समापन करने के लिए National Payment Corporation of India (NPCI) ने RBI के साथ मिलकर इस UPI पेमेंट लिमिट को बढ़ाने का निर्णय दिसंबर में हुई मॉनेटरी पॉलिसी की बैठक में लिया और UPI पेमेंट लिमिट को एक दिन में 5 लाख तक करने की घोषणा की। 

किसको मिलेगा 5 लाख तक UPI पेमेंट का लाभ  

NPCI  और RBI  ने मिलकर UPI पेमेंट लिमिट को 1 लाख रुपये रोज़ाना से बढ़ाकर 5 लाख रुपए करने की घोषणा कर दी है जिसको इसी साल 10 जनवरी को लागू किया जाएगा, पर इस वृद्धि का लाभ सभी UPI पेमेंट यूजर्स को नहीं मिलेगा, दरअसल इस बदलाव को एजुकेशनल इंस्टीट्यूट और अस्पतालों के बिल का भुगतान करने वाले यूजर्स के लिए किया गया है क्योंकि अक्सर उनकी भुगतान राशि 1 लख रुपए से अधिक होती है तब इन्हें UPI पेमेंट करने में समस्याएं आती है। 

इसे भी पढ़ें –  MP e-District – मप्र मूल निवासी प्रमाण पत्र फार्म डाउनलोड करें 2024

UPI पेमेंट में भारत अन्य देशों से आगे 

UPI पेमेंट के आंकड़ों की बात करें तो भारत में सिर्फ वर्ष 2023 में 100 बिलियन UPI पेमेंट का आंकड़ा पार कर लिया है। साल 2023 में कुल UPI पेमेंट 118 बिलियन दर्ज की गई है जो कि पिछले वर्ष 2022 के मुकाबले में पूरी 60% ज्यादा है। 

Author

  • Princi Soni

    I have been writing for the Apna Kal for a few years now and I love it! My content has been Also published in leading newspapers and magazines.

Leave a Comment

Your Website