MP News: सीएम मोहन यादव ने दिए निर्देश, मध्य प्रदेश के किसानों को मिलेगा 17 करोड़ 81 लाख रुपए का मुआवजा

मध्य प्रदेश में ओलावृष्टि के कारण किसानों की फसलों को काफी नुकसान हुआ है जिसके चलते मुख्यमंत्री मोहन यादव जी ने तत्काल सर्वे कर राहत राशि देने का निर्देश अधिकारियों को दिया। इसके अलावा 11 फरवरी से लेकर के 14 फरवरी को हुई असमय तेज बारिश, तूफान और ओलावृष्टि से फसलों की क्षति पर 17 करोड़ 81 लाख रुपए राहत राशि की स्वीकृति दी गई है।

ओलावृष्टि से किसानों की फसलों को हुआ नुकसान

मध्य प्रदेश में पिछले कुछ दिनों पश्चिमी विक्षोभों से मौसम प्रभावित हो रहा है। जिससे असमय बारिश और ओलावृष्टि की वजह से फसलों को भी काफी ज्यादा नुकसान पहुंच रहा है। किसानों द्वारा मेहनत करोगे की फसल बर्बाद हो रही है हालांकि इसकी चिंता मध्य प्रदेश की मोहन सरकार को भी है और मध्य प्रदेश सरकार ने यह कहा कि संकट के समय हम अन्नदाताओं के साथ हैं।

इन जिलों के किसानों को मिलेगा मुआवजा

मध्य प्रदेश के लगभग 26 से 27 जिलों में असमय बारिश और ओलावृष्टि की वजह से फसल बर्बाद हुई है और यहां के किसानों को सरकार मुआवजा देने वाली है जिसमें जबलपुर, ग्वालियर, शहडोल, नर्मदा पुरम संभाग के सभी जिले इसके साथ रीवा संभाग के कुछ जिले शामिल हैं। और दमोह, सागर, खंडवा, इंदौर, छतरपुर, सतना, टीकमगढ़, निवाड़ी, पन्ना, बड़वानी, विदिशा, भोपाल, खरगोन, रायसेन सीधी वा सिंगरौली के किसानों को मुआवजा राशि प्राप्त होगी।

इन 8 जिलों के लिए 17 करोड़ 81 लाख राहत राशि स्वीकृत

मध्य प्रदेश में 11 फरवरी से लेकर के 14 फरवरी को हुई असमय तेज बारिश, तूफान और ओलावृष्टि से प्रभावित फसलों के सर्वे के बाद सर्वे टीम ने 8 जिलों के 196 गावों के लिए 16 हजार 481 किसानों के लिए मुआवजा राशि का प्रस्ताव रखा जिसके लिए मध्य प्रदेश सरकार ने कुल 17 करोड़ 81 लाख रुपए की मंजूरी दे दी है और यह राहत राशि किसानों को देने हेतु कार्यवाही की जा रही है।

यह भी पढ़ें – MP News: मध्य प्रदेश सरकार ने दिखाई सख्ती, अब स्कूलों में एडमिशन लेना हुआ महंगा

हाल ही में हुए 25 से 27 फरवरी के बीच असमय बारिश और ओलावृष्टि से फसलों को नुकसान हुआ है जिसके लिए मुख्यमंत्री मोहन यादव जी ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि जल्द से जल्द सर्व करें और किसानों को राहत राशि देने की व्यवस्था की जाए। जिसके बाद से प्रशासन द्वारा ओलावृष्टि से हुई फसलों का सर्वे किया जा रहा है।

मुआवजा हेतु 6-4 मापदण्ड तैयार

मध्य प्रदेश में विगत दिनों असमय वर्षा ओला वृष्टि के चलते फसलों को हुए नुकसान को लेकर के मध्य प्रदेश सरकार ने समस्त जिलों में फसल क्षति का सर्वे अतिशीघ्र कराने हेतु राजस्व विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं जिसके लिए राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 में मापदंड निर्धारित है और इन्हीं मापदंडों के अनुसार राजस्व विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि समय सीमा में सर्वे की कार्रवाई पूर्ण कर पात्र किसानों को राहत राशि वितरित की जाए।

यह भी पढ़ें – मोहन सरकार ने की बड़ी घोषणा, राज्य के कर्मचारियों को मिलेगा नई संविदा नीति का लाभ

Author

Leave a Comment

Your Website