MP News: इस दिन आएगा सरकार का लिखित आदेश, कर्मचारियों का रिटायरमेंट आयु 3 साल बढ़ा

अन्य सरकारी कर्मचारियों के साथ-साथ अब मध्य प्रदेश के कर्मचारियों को भी मोहन यादव सरकार बड़ी राहत पहुंचाने की तैयारी कर रही है। प्रदेश सरकार राज्य के 4 लाख से भी अधिक कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति आयु में बदलाव करके उसमें वृद्धि करने की तैयारी में लगी है। आने वाले लोकसभा चुनाव से पहले ही मध्य प्रदेश सरकार 4 लाख से अधिक कर्मचारियों को लाभ पहुंचाने के लिए परियोजना तैयार कर रही है, जिसका असर सीधे तौर पर लोकसभा चुनाव में देखने को मिलेगा। 

मध्य प्रदेश सरकार ने पिछले 5 वर्ष पहले हुए विधानसभा चुनाव के दौरान वर्ष 2018 में शासकीय कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति आयु को 60 वर्ष से बढ़कर 62 वर्ष कर दिया था। वहीं इस बार लोकसभा चुनाव के पूर्व राज्य सरकार सरकारी कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति आयु में संशोधन करके उसमें वृद्धि कर सकती है। बता दें राज्य के 4 लाख से भी अधिक कर्मचारियों की रिटायरमेंट आयु में वृद्धि को लेकर मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव सामान्य प्रशासन विभाग और मंत्री समूह के साथ बैठक करके अंतिम निर्णय जल्द ही ले सकते हैं। 

कर्मचारियों की रिटायरमेंट आयु होगी 65 वर्ष 

मध्य प्रदेश के शासकीय कर्मचारियों की रिटायरमेंट आयु वर्तमान में 62 वर्ष है, जिसमें अब मोहन यादव सरकार बदलाव करने की तैयारी कर चुकी है। संभावना जताई जा रही है कि राज्य सरकार द्वारा 4 लाख से भी अधिक शासकीय कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति आयु को वर्तमान से 3 वर्ष बढ़ाकर उसको 62 वर्ष से 65 वर्ष कर दिया जाए। हालांकि इस पर अभी कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है, सरकार जल्द ही इस मुद्दे को लेकर मंत्रिमंडल की बैठक करने वाली है।

इसे भी पढ़ें –  लोकसभा चुनाव से पहले सरकारी कर्मचारियों और लाडली बहनों को मिलेगी 4 गुड न्यूज, तीसरा चरण भी होगा शुरू

सरकार और कर्मचारी दोनों को होगा लाभ  

प्रदेश की सरकारी कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति आयु बढ़ने से कर्मचारियों सहित राज्य सरकार को भी लाभ पहुंचेगा। जैसा कि आप जानते हैं कर्मचारियों की रिटायरमेंट आयु के दौरान राज्य सरकार द्वारा कर्मचारियों को एक मुश्त राशि प्रदान की जाती है, लेकिन कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति आयु में 3 साल की वृद्धि होने से राज्य सरकार को यह राशि फिलहाल में कर्मचारियों को नहीं देनी होगी,

जिससे कर्ज में डूबी सरकार को बहुत राहत मिलेगी, साथ ही शासकीय कर्मचारियों को भी 3 वर्ष अधिक तक सेवा देने का अवसर मिलेगा और वह 62 वर्ष की जगह 65 वर्ष तक सरकारी नौकरी का लाभ उठा पाएंगे।

इसे भी पढ़ें –  MP News: मोहन कैबिनेट के 5 बड़े फैसले, सिंचाई परियोजना के लिए 2224 करोड़ की मंजूरी

Author

  • Srajan Thakur

    मेरा नाम सृजन है और मुझे लिखना काफी पसंद है। मैं एक जिज्ञासु वक्तितित्व का हूँ इसलिए मैं सम्पूर्ण विषयों के ऊपर लेख लिखने में सक्षम हूँ। में एक पूर्ण रूप से लेखक कहलाता हूँ।

Leave a Comment

Your Website