मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना: इस दिन युवाओं के खाते में आएंगे 10,000 रुपये

मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना: मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के नेतृत्व में युवाओं के लिए सीखो कमाओ योजना लागू की गई और अब इस योजना में आवेदन कर रहे युवाओं के खाते में 10,000 रूपए प्रति माह आएंगे। किस तरह युवा अपने खाते में 10,000 रुपए प्राप्त कर सकते हैं इस बारे में हम यहां विस्तार से जानेंगे।

सीखो कमाओ योजना में 75 प्रतिशत स्टाइपेंड सरकार देगी और 25 प्रतिशत का स्टाइपेंड प्रशिक्षण देने वाली कंपनी देगी। हालाकि इस योजना में आवेदन करने वाले सभी युवाओं को शैक्षणिक योग्यता के अनुसार स्टाइपेंड दिया जाएगा। जिसमें 12 उत्तीर्ण करने वाले युवा को 8000 रुपए, आईटीआई उत्तीर्ण युवा को 8500 रुपए, स्नातक उत्तीर्ण या उच्च शैक्षणिक योग्यता प्राप्त युवा को 10,000 रूपए प्रति माह दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना

मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना के अंतर्गत प्रशिक्षण देने वाली कंपनियों का रजिस्ट्रेशन 7 जून 2023 से प्रारंभ हो चुका था और प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले राज्य के युवाओं का रजिस्ट्रेशन 3 जुलाई 2023 से प्रारंभ हो चुका है। और युवाओं के रजिस्ट्रेशन 31 जुलाई 2023 तक जारी रहेंगे। इसके बाद 1 अगस्त 2023 से विभिन्न प्रतिष्ठानों में युवाओं का प्रशिक्षण प्रारंभ किया जाएगा युवा अपने कोर्स के अनुसार अलग-अलग जिलों में स्थित प्रतिष्ठानों पर प्रशिक्षण प्राप्त करेंगे।

यह भी पढ़ें – लाडली बहना योजना: 25 जुलाई से पहले तैयार कर लें ये दस्तावेज, वरना नहीं मिलेगा योजना का लाभ

1 सितंबर से युवाओं को 8 से 10 हजार रूपए स्टाइपेंड प्राप्त होगा

1 अगस्त 2023 से विभिन्न प्रतिष्ठानों में युवाओं का प्रशिक्षण प्रारंभ कर दिया जाएगा और इसके ठीक एक माह के प्रशिक्षण के बाद 1 सितंबर 2023 से युवाओं के बैंक खाते में स्टाइपेंड की राशि डीबीटी के तहत प्रदान की जाएगी। जिस में शैक्षणिक योग्यता के अनुसार युवाओं को 8000 से 10000 रुपए प्रति माह प्राप्त होंगे।

12वीं उत्तीर्ण करने वाले युवाओं को 8000 रुपए, आईटीआई उत्तीर्ण करने वाले युवाओं को 8500 रूपए, डिप्लोमा प्राप्त युवाओं को 9000 रूपए एवं स्नातक उत्तीर्ण या उच्च शैक्षणिक योग्यता प्राप्त युवाओं को 10000 रूपए स्टाइपेण्ड प्राप्त होगा। युवाओं को देने वाला स्टाइपेण्ड कोर्स के लिए निर्धारित न्यूनतम शैक्षणिक अर्हता के आधार पर निर्धारित किया गया है।

यह भी पढ़ें – विवादों में शिवराज सरकार, बीजेपी विधायक के NRI कॉलेज सेंटर से 7 अभ्यर्थियों ने टॉप 10 में बनाई जगह

प्रशिक्षण उपरांत युवाओं का होगा डायरेक्ट प्लेसमेंट

सीखो कमाओ योजना में युवाओं को प्रशिक्षण के बाद डायरेक्ट प्लेसमेंट मिलेगा। औपचारिक शिक्षा के बाद युवा औद्योगिक एवं व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में रोजगार प्राप्त करने के लिए पर्याप्त कुशल नही रहता है लेकिन मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना के अंतर्गत युवाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा जिससे युवाओं के कौशल में विकास होगा और साथ ही युवाओं में नियमित रोजगार प्राप्त करने की योग्यता अर्जित होगी।

यह भी पढ़ें – घर बैठे लाडली बहना योजना द्वितीय चरण डीबीटी भुगतान स्थिति और अंतिम सूची की जाँच करें

सीखो कमाओ योजना में युवाओं को मिलेंगे ये सभी लाभ

मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना के अंतर्गत युवाओं को उद्योग-उन्मुख प्रशिक्षण प्राप्त होगा और प्रशिक्षण के दौरान युवाओं को प्रतिमाह 8000 से 10,000 रूपए तक का स्टाइपेंड भी प्राप्त होगा। नई नई कम्पनी द्वारा प्रशिक्षण देने की वजह से नवीनतम तकनीक और नवीनतम प्रक्रिया के माध्यम से प्राप्त प्रशिक्षण से युवाओं के कौशल में विकास होगा। इसके साथ ही मध्यप्रदेश राज्य कौशल विकास एवं रोजगार निर्माण बोर्ड (MPSSDEGB) द्वारा State Council for Vocational Training (SCVT) का प्रमाण पत्र प्राप्त होगा जिससे युवाओं को नियमित रोजगार प्राप्त करने में सहायता प्राप्त होगी।

यह भी पढ़ें – आखिर क्यों पसंद नहीं आ रही है युवाओं को सीखो कमाओ योजना, सामने आये ये बड़े कारण

Author

Leave a Comment

Your Website