PM Drone Yojana 2024: केंद्र सरकार महिलाओं को देगी 15000 ड्रोन, इस तरह आप भी उठायें लाभ

सरकार ने अब महिला किसानों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए मुहिम चलाई है। ऐसे में महिला किसानों को प्रोत्साहन दिया जा रहा है। महिलाओं को खेती करने के लिए 15000 ड्रोन देगी मोदी सरकार ऐसे में महिलाओं को ड्रोन के साथ-साथ ट्रेनिंग भी दी जाएगी। और महिलाओं को सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

महिला किसानों को मिलेंगे ड्रोन

केंद्र सरकार की ओर से अब महिला किसानों को ड्रोन दिए जाएंगे। इसके लिए सरकार ने उन महिलाओं को चुना है। जो कि स्वयं सहायता समूह से जुड़ी हुई है। और इन महिलाओं को प्रदेश सरकार आत्मनिर्भर बनाना चाहती है। इस योजना के तहत 1261 करोड रुपए महिला किसानों पर खर्च होंगे। महिलाओं को सबसे पहले ड्रोन की ट्रेनिंग दी जाएगी। ताकि महिलाओं को ड्रोन का उपयोग करना आसानी से आ जाए। इन ड्रोन का उपयोग करके महिलाएं खेतों की देखभाल अच्छे से कर सकती हैं। ड्रोन की मदद से कीटनाशक दवाइयां का छिड़काव करना, खेती को देखना, उर्वरक खाद को छिड़कना और भी कई कार्य ड्रोन के माध्यम से किए जाएंगे।

ड्रोन योजना का उद्देश्य

ड्रोन योजना के माध्यम से खेती को कम समय में करने का तरीका बताया गया है। इसके माध्यम से खेती को कैसे कुशल बनाया जाएगा। यह भी समझाया गया है। इसके अलावा खेती को कम समय में कैसे उत्तम तरीके से किया जाएगा। ट्रेनिंग के दौरान महिलाओं को बताया जाएगा। कुल मिलाकर ड्रोन योजना का उद्देश्य खेती को बेहतर तरीके से करने के लिए बनाया गया है। यह योजना महिलाओं के लिए शुरू की गई है।

ग्रामीण अंचलों में रहने वाली जितनी भी महिलाएं खेती करती हैं। और स्वयं सहायता समूह से जुड़ी हैं। उन सभी महिलाओं को योजना का लाभ दिया जाएगा। ड्रोन योजना के माध्यम से महिलाएं कम आमदनी में अच्छा मुनाफा कमा सकती हैं। महिलाओं के लिए या एक अच्छा व्यवसाय बन सकता है। इसी उद्देश्य के साथ केंद्र सरकार ने ड्रोन योजना को शुरू किया है।

यह भी पढ़ें – मध्य प्रदेश सरकार की एक और महत्वपूर्ण बैठक संपन्न, कर्मचारियों और किसानों के हित में आया फैसला

ड्रोन पायलट और ड्रोन सह-पायलट

ड्रोन योजना के अनुसार ग्रामीण क्षेत्रों में जितने भी महिलाएं खेती कर रही हैं। उन सभी महिलाओं को ड्रोन की ट्रेनिंग दी जाएगी और महिलाओं को खेती करने के तरीके भी बताए जाएंगे। इसके साथ ही यह भी बताया जाएगा कि ड्रोन के माध्यम से आप खेती को कैसे कर सकते हो या ड्रोन के माध्यम से खेती के कार्यों को कैसे आसान बनाए जा सकता है। इस ट्रेनिंग के बाद ड्रोन पायलट को 15000 रुपए सैलरी दी जाएगी और ड्रोन सह-पायलट को 10000 रुपए सैलरी दी जाएगी। इस योजना  जमीनी स्तर पर दिया जा रहा है आप अपनी पंचायत में ड्रोन ट्रेनिंग और ड्रोन प्राप्ति करने हेतु ऑफलाइन आवेदन भी कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें – मध्य प्रदेश के इंदौर में बनेगा ग्रीन फील्ड डाटा सेंटर, 2000 से अधिक युवाओं को मिलेगा रोजगार

Author

Leave a Comment

Your Website