MP News: हर गांव के चौराहों पर लगेगा CCTV कैमरा, अब कैसे बचोगे !!

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने नए साल की शुरुआत पर कानून व्यवस्था के प्रति काफी सख़्ती बरतने के निर्देश दिए हैं। हाल ही में मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव इंदौर संभाग के खरगोन में आयोजित संभाग स्तरीय बैठक में शामिल होने पहुंचे। मध्य प्रदेश सीएम ने समीक्षा बैठक को संबोधित करते हुए संभाग में हो रहे विकास के कार्यों पर चर्चा की और प्रगति स्तर की पड़ताल की। 

खरगोन में संभाग स्तरीय समीक्षा बैठक के दौरान CM डॉ मोहन यादव ने कानून व्यवस्था की भी समीक्षा की, वह कानून व्यवस्था को लेकर काफी सख्त नजर आए। CM डॉ मोहन यादव ने अपराधों पर लगाम लगाते हुए मध्य प्रदेश के प्रत्येक गांव में सीसीटीवी कैमरे लगाने के निर्देश दिए हैं। खरगोन में आयोजित इस समीक्षा बैठक में पुलिस को अपना एक बैंड बनाने की भी बात CM मोहन यादव ने कही है। पुलिस के अपने इस बैंड में होमगार्ड के जवानों को भी सम्मिलित होने के निर्देश दिए गए हैं। 

प्रत्येक गांव के चौराहों पर होंगे CCTV  

कानून व्यवस्था को बेहतर बनाने और अपराध पर नियंत्रण रखने के लिए CM डॉ मोहन यादव ने प्रत्येक गांव के प्रमुख चौराहों और सार्वजनिक स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने के निर्देश दिए हैं। इस कार्य को अंजाम तक पहुंचाने के लिए उन्होंने जन सहयोग के साथ कार्य करने की बात कही है। 

दर्शनार्थियों की सुरक्षा को मजबूत बनाने के निर्देश 

मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने खरगोन में आयोजित संभाग स्तरीय समीक्षा बैठक में ओंकारेश्वर में नए घाट के निर्माण और दर्शन की व्यवस्था को अधिक बेहतर बनाने के लिए कार्य योजना बनाने और दर्शनार्थियों की सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत बनाने के निर्देश विभाग को दिए हैं। 

प्रत्येक जिले में पुलिस का बैंड जरूरी

CM डॉ मोहन यादव ने इस संभागीय स्तरीय समीक्षा बैठक को संबोधित करने के बाद पुलिस प्रशासन पर चर्चा की, उन्होंने कहा मध्य प्रदेश के प्रत्येक जिले में पुलिस का अपना बैंड होना जरूरी है साथ ही उन्होंने निर्देश दिए कि पुलिस के अपने इस बैंड में होमगार्ड के जवानों की भी भर्ती की जाएगी।

इसे भी पढ़ें – लाड़ली बहनों को नहीं मिलेगी 8वीं किश्त, 27000 से अधिक महिलाएं हुई योजना से बाहर

DJ और ध्वनि विस्तारक यंत्रों के प्रबंध पर पड़ताल  

इस समीक्षा बैठक में CM डॉ मोहन यादव ने विभागिये अधिकारियों से डीजे और ध्वनि विस्तारक यंत्रों के ऊपर लगे हुए प्रतिबंध पर पड़ताल करते हुए पूछा की इस प्रतिबंध का प्रभाव प्रदेश में देखने को मिला या नहीं, उन्होंने इस ध्वनि विस्तारक यंत्रों और डीजे को समय सीमा के अनुसार उपयोग वाले निर्णय की सराहना की। 

Author

  • Karan Sharma

    मेरा नाम करण है और मैं apnakal.com वेबसाइट के लिए आर्टिकल लिखता हूं। हिंदी लिखने का मेरा जुनून है जो मुझे सब कुछ के बारे में लिखने के लिए प्रेरित करता है।

Leave a Comment

Your Website