MP News: मध्य प्रदेश अतिथि शिक्षकों की उपस्थिति होगी ऑनलाइन, आदेश जारी, देखें पूरी प्रक्रिया

मध्य प्रदेश में अब सरकारी महाविद्यालय में अतिथि विद्वानों की उपस्थिति के संबंध में उच्च शिक्षा विभाग ने अब एक सार्थक एप लॉन्च कर दिया है। यह आदेश समस्त संबंधित शासकीय महाविद्यालय के प्राचार्य के लिए जारी किया गया है। इसका विषय है। महाविद्यालय में कार्यरत अतिथि विद्वानों की उपस्थिति सार्थक ऐप के माध्यम से होगी।

अतिथि विद्वानों की उपस्थिति सार्थक ऐप से की जाएगी

इस आदेश में लिखा गया है कि प्रथम चरण में भोपाल जिले के शासकीय महाविद्यालयों में रिक्त पदों पर कार्यरत अतिथि विद्वानों की उपस्थिति सार्थक ऐप से कराए जाने हेतु कार्यरत अतिथि विद्वानों को ऑन बोर्ड दिनांक 10 फरवरी 2024 तक किया जाना है। सार्थक एप उपयोग करने के लिए महाविद्यालय के यूजर आईडी एवं पासवर्ड बनाकर संबंधित महाविद्यालयों के अधिकृत शासकीय ईमेल पर भेजे जा रहे हैं। संबंधित कार्यरत अतिथि विद्वानों को सार्थक ऐप से पंजीकरण करने एवं उपस्थिति दर्ज करने हेतु प्रशिक्षण दिनांक 14 फरवरी 2024 को दोपहर 12 बजे ऑनलाइन प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।

ईमेल आईडी के माध्यम से बनाए जाएंगे यूजर आईडी और पासवर्ड

मध्य प्रदेश में अब अतिथि विद्वानों के लिए उपस्थिति ऑनलाइन कर दी गई है इस आदेश के मायने यह है कि जितने भी शासकीय महाविद्यालयों में अतिथि विद्वान कार्यरत हैं। उनकी उपस्थिति सार्थक ऐप से कराई जानी है। और यह 10 फरवरी 2024 तक किया जाना है। जितने भी शासकीय महाविद्यालय हैं उनकी जो ऑफिशियल शासकीय ईमेल आईडी है। उस पर यूजर आईडी और पासवर्ड प्राचार्य के लिए भेजे जा चुके हैं। महाविद्यालयों में अतिथि विद्वानों के लिए 14 फरवरी 2024 को दोपहर 12 बजे ऑनलाइन प्रशिक्षण किया जाना है।

अतिथि शिक्षकों की उपस्थिति होगी ऑनलाइन

इसे भी पढ़ें – MP News – हजारों जनसेवा मित्र की नौकरी खतरे में, मोहन सरकार का हम पर ध्यान नहीं

14 फरवरी 2024 को दोपहर 12 बजे तक ऑनलाइन प्रशिक्षण

यह आदेश 9 फरवरी 2024 को जारी किया गया है। और इसका मुख्य विषय है कि कार्यरत अतिथि विद्वानों की महाविद्यालय में उपस्थिति को सार्थक एप्लिकेशन के माध्यम से सुनिश्चित किया जाए। इसके अनुसार, भोपाल जिले के शासकीय महाविद्यालयों में रिक्त पदों पर कार्यरत अतिथि विद्वानों की उपस्थिति को 10 फरवरी 2024 तक सार्थक ऐप्लिकेशन के माध्यम से कराया जाना है। उन्हें उपस्थिति दर्ज करने के लिए 14 फरवरी 2024 को दोपहर 12 बजे तक ऑनलाइन प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाएगा।

यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि सभी शासकीय महाविद्यालयों में अतिथि विद्वानों की उपस्थिति को सार्थक ऐप्लिकेशन के माध्यम से दर्ज किया जाए। और आवश्यक जानकारी संबंधित महाविद्यालयों के आधिकारिक ईमेल पर भेजी जाए।

इसे भी पढ़ें –  छात्रों का आंदोलन हुआ सफल आज बढ़ाई जायगी परीक्षा की तारीख, MPPSC में शुरू होगी नेगेटिव मार्किंग

Author

Leave a Comment

Your Website