आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की हुई बल्ले-बल्ले, सरकार ने बढ़ाया वेतन और रिटायरमेंट पर मिलेगा सवा लाख रुपये

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 10 जून को लाड़ली बहना योजना की पहली किश्त देने के बाद अब आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए बड़ा एलान किया है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और सहायिकाओं के लिए खुशखबरी है आगामी चुनाव से पहले सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को बड़ा तोहफा दिया है। मध्यप्रदेश सरकार ने चुनाव से पहले आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय बढ़ा दिया है। अब आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 13000 रुपए का मानदेय मिलेगा। इसके साथ ही आंगनबाड़ी सहायिकाओं का भी मानदेय बढ़ा है।

आपको बता दें कि इससे पहले आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने मानदेय बढ़ाने के लिए पिछले साल नवरात्रि के समय खूब हड़ताल किया था जिसका फल उनको अभी मिल रहा है। सीएम ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के मानदेय में 3000 और सहायिक के मानदेय में 1500 रुपए की वृद्धि करने की घोषणा की है। इस संबंध में महिला बाल विकास विभाग की ओर से वित्त विभाग को पहले ही प्रस्ताव भेजा जा चुका है, इसके चलते उम्मीद जताई जा रही है बहुत जल्द आदेश जारी हो सकते है।

2005  में था 500 रुपये महीना 

शिवराज सिंह चौहान ने अपने भाषण में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के पिछले वर्षों की स्थिति को याद दिलाते हुए कहा कि 2005 में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का वेतन सिर्फ 500 रुपए था। उसके बाद 2008 में बढाकर इसे 1500 किया गया उसके बाद साल 2018 में कार्यकर्ता का मानदेय 10 हजार रुपए किया गया था। गौर किया जाय तो यह सारी बढ़ोतरी चुनावी वर्षों में ही की गई है। इस साल भी चुनावी साल के चलते वेतन बढ़कर अब 13 हजार रुपये कर दिया गया है। 

इसे भी पढ़ें – लाड़ली बहना योजना की अपार सफलता के बाद लॉन्च हुआ सीखो कमाओ योजना

रिटायरमेंट के बाद मिलेंगे 1 लाख 25 हजार 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि  इतने साल सेवा करने के बाद आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को आखिर में कुछ नहीं मिलता इसलिए में आज मेरी बहनों को उनके रिटायरमेंट पर 1 लाख 25 हजार रुपए की राशि और आँगनबाड़ी सहायिका को 1 लाख रुपए की राशि दिया जाएगा।आंगनवाड़ी सहायिका को पदोन्नति में आरक्षण 25 प्रतिशत से बढ़ाकर 50 प्रतिशत किया जाएगा।

 

स्वास्थ्य और दुर्घटना बीमा भी मिलेगा 

मध्यप्रदेश सरकार ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ता का सिर्फ वेतन ही नहीं बढ़ाया बल्कि आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका का स्वास्थ्य और दुर्घटना बीमा कराया जाएगा। इस बीमा की राशि सरकार ने 5 लाख रुपए बताया है। जिसे लेकर वहां मौजूद आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका  ख़ुशी की लहर दौड़ गयी। 

लाड़ली बहना योजना में शामिल 

जी हाँ दोस्तों आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं  ने मुख्यमंत्री से गुहार लगाई की हम लोग गांव-गांव महिलाओं के घर गए और फॉर्म भरने के लिए जागरूक किया महिलाओं को ग्राम पंचायत लाए, जिला स्तर पर केवाईसी करवाया उसके बाद भी हमें उसका कुछ नहीं मिला इसलिए सरकार ने उनको भी लाड़ली बहना योजना के लाभ से जोड़ दिया है। मतलब की हर महीने 1000 रुपये अलग से खाते में जमा होगा। मतलब 13000 वेतन के साथ 1000 रुपये बहना योजना की तरफ से लाभ मिलेगा।  मध्यप्रदेश में लगभग 1 लाख आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं हैं जिसको सरकार द्वारा इस नए योजना का लाभ मिलेगा। 

इसे भी पढ़ें – लाड़ली बहना योजना 1000 रूपये का मैसेज नहीं आया तो अपनाएं यह आसान तरीका

वेतन बढ़ने के बाद भी नाखुश दिखी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिकाएं

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भले ही आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिकाएं का वेतन बढ़ा दिया हो परन्तु वे इससे संतुष्ट नजर आयी। अपना कल के प्रवक्ता अनुज त्रिपाठी ने जब एक कार्यकर्ता से बात की तो उन्होंने बताया कि हमारी मांग सरकार से आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को 20 हजार रुपये प्रतिमाह मानदेय और आंगनबाड़ी सहायिकाओं 10 हजार रुपये महीने वेतन की मांग थी कहा कि यह वेतन बहुत कम है। 

दोस्तों आपकी नज़रों में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिकाओं के लिए प्रतिमाह कितनी वेतन राशि होनी चाहिए आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं धन्यवाद। 

और पढ़ें 

Author

  • Srajan Thakur

    मेरा नाम सृजन है और मुझे लिखना काफी पसंद है। मैं एक जिज्ञासु वक्तितित्व का हूँ इसलिए मैं सम्पूर्ण विषयों के ऊपर लेख लिखने में सक्षम हूँ। में एक पूर्ण रूप से लेखक कहलाता हूँ।

Leave a Comment

Your Website