MP News: राज्य के 730 स्कूलों को मिलेंगे 219 करोड़ रुपए, सरकारी स्कूल होंगे पीएम श्री में कन्वर्ट

मध्य प्रदेश राज्य के सरकारी स्कूलों के छात्रों की शिक्षा में गुणवत्ता लाने और उसको अधिक बेहतर बनाने के लिए प्रदेश की मोहन यादव सरकार ने राज्य के 730 स्कूलों को पीएम श्री स्कूल के रूप में विकसित करने की योजना बनाई है जिस पर राज्य सरकार ने कार्य करना शुरू भी कर दिया है। 

मध्य प्रदेश की मोहन यादव सरकार ने स्कूलों को पीएम श्री स्कूल के रूप में विकसित करने के लिए राज्य के 730 स्कूलों को अपने लक्ष्य में शामिल किया है। इन 730 स्कूलों में से 313 विकासखंडो (ग्रामीण क्षेत्र) में 626 सरकारी स्कूल और नगरीय निकाय (शहरी क्षेत्र) में 104 सरकारी स्कूलों को पीएम श्री स्कूल के रूप में विकसित करने की परियोजना आरंभ हो चुकी है। 

राज्य के 730 स्कूलों को पीएम श्री स्कूल बनाने का लक्ष्य  

मध्य प्रदेश राज्य की नवगठित मोहन यादव सरकार ने स्कूल शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाने में और छात्रों को नहीं शिक्षा नीति की ओर आकर्षित करने के लिए राज्य सरकार ने प्रदेश के 730 चयनित सरकारी स्कूलों को नई शिक्षा नीति के तहत पीए श्री स्कूल के रूप में विकसित करने की तैयारी कर ली है। पीएम श्री योजना के अंतर्गत सरकार ने राज्य के 313 ग्रामीण क्षेत्रों में 626 स्कूल और शहरी क्षेत्र के 104 स्कूलों को विकसित पीएम श्री स्कूल बनाने का लक्ष्य तय किया है। 

सरकार ने किया 219 करोड रुपए के प्रस्ताव को मंजूर  

सरकार ने 730 स्कूलों को पीएम श्री स्कूल के रूप में विकसित करने के लिए परियोजना तैयार की है जिसके तहत चरणों में इस कार्य को किया जाएगा जिसके पहले चरण में वर्ष 2023-24 में राज्य के 416 स्कूलों के विकास का कार्य किया जाएगा। इसके लिए राज्य सरकार की तरफ से 219 करोड रुपए की कार्य योजना को स्वीकृति दी गई है। संयुक्त संचालक जनसंपर्क श्री मुकेश मोदी के अनुसार ग्रीन स्कूलों के तर्ज पर स्कूल का विकास किया जा रहा है, जिसमें लैब, लाइब्रेरी, व्यवसायिक शिक्षा के साथ ICT और अटल टिकरिंग लैब भी तैयार की जाएगी। 

पीएम श्री स्कूलों में ICT लैब बनाने की तैयारी 

नई शिक्षा नीति के तहत स्कूलों को पीएम श्री स्कूल के रूप में विकसित करने के संदर्भ में संयुक्त संचालक जनसंपर्क मुकेश मोदी ने दावा करते हुए बताया कि स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा संचालित सरकारी स्कूलों में ICT लैब को बनाया जाएगा, साथ ही नई शिक्षा नीति की महत्वपूर्णता को बढ़ावा देते हुए प्रदेश के लगभग 2350 सरकारी स्कूलों में कंप्यूटर लैब स्थापित किया जा चुके हैं। 

इसे भी पढ़ें –  मध्य प्रदेश के युवाओं के लिए जनपद पंचायत में निकली भर्ती, ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन

104 सरकारी स्कूलों में रोबोटिक लैब 

श्री मुकेश मोदी ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश के स्कूलों को ग्रीन स्कूल के तर्ज पर तैयार किया जा रहा है जिसमें नई शिक्षा नीति के तहत 2350 स्कूलों में कंप्यूटर लैब स्थापित किया जा चुके हैं और प्रत्येक लैब में 10 कंप्यूटर, स्मार्ट टीवी और अन्य जरूरी डिवाइसेज लगाए जा रहे हैं। मुकेश मोदी के अनुसार रोबोटिक एवं कोडिंग की तकनीक छात्रों को सिखाने के लिए राजधानी भोपाल के 5 CM राइज स्कूलों में पायलट प्रोजेक्ट शुरू किया गया है जिसके अंतर्गत राज्य के 104 स्कूलों में रोबोटिक लैब लगाए गए हैं।

Author

  • Srajan Thakur

    मेरा नाम सृजन है और मुझे लिखना काफी पसंद है। मैं एक जिज्ञासु वक्तितित्व का हूँ इसलिए मैं सम्पूर्ण विषयों के ऊपर लेख लिखने में सक्षम हूँ। में एक पूर्ण रूप से लेखक कहलाता हूँ।

Leave a Comment

Your Website