मध्यप्रदेश सरकार से नाराज 12 लाख कर्मचारियों ने की 8 फीसदी महंगाई भत्ते को बढ़ाने की मांग

मध्यप्रदेश सरकार लोकसभा चुनाव से ठीक कुछ दिन पहले ही केंद्र सरकार ने बड़ा दाव खेला है। दरअसल केंद्र सरकार की तरफ से लंबे समय के इंतजार के बाद अब जाकर केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 4 फीसदी की वृद्धि करके उसे वर्तमान में 50 फीसदी तक पहुंचाया गया है। बता दें केंद्र सरकार की इस वृद्धि का असर मध्य प्रदेश राज्य के 12 लाख कर्मचारियों के ऊपर देखने को मिल रहा है। 

मध्य प्रदेश राज्य के 12 लाख सरकारी कर्मचारी केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते को बढ़ने से प्रदेश सरकार से काफी नाराज है और अब उनकी आशाएं मध्य प्रदेश की मोहन सरकार से और अधिक बढ़ गई हैं। यदि केंद्रीय कर्मचारियों और मध्य प्रदेश के कर्मचारियों के महंगाई भत्ते की तुलना की जाए तो इसमें पूरे 8 फीसदी का उतार चढ़ाव है यानी की राज्य के कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 42 फीसदी है जबकि केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 50 फ़ीसदी तक पहुंच गया है। 

राज्य के 12 लाख कर्मचारी सरकार से नाराज  

केंद्रीय कर्मचारियों का लगातार महंगाई भत्ता बढ़ने से मध्य प्रदेश राज्य के 12 लाख कर्मचारी प्रदेश सरकार से काफी नाराज है क्योंकि राज्य सरकार ने उन्हें यह आश्वासन दिया था कि उन्हें केंद्रीय कर्मचारियों के समान ही लाभ उपलब्ध कराए जाएंगे और जुलाई 2023 में जब राज्य सरकार की तरफ से कर्मचारियों के महंगाई भत्ते को 4 फीसदी बढ़ाकर 42 फ़ीसदी करके केंद्रीय कर्मचारियों के समान किया गया तो कर्मचारी सरकार से काफी खुश थे लेकिन…  

इसके कुछ समय बाद केंद्र सरकार की तरफ से महंगाई भत्ते में 4 फ़ीसदी की बढ़ोतरी करके उसे 46 फीसदी कर दिया गया पर राज्य सरकार की तरफ से महंगाई भत्ते में कोई बदलाव नहीं हुए जिसके बाद राज्य के 12 लाख कर्मचारी सरकार से महंगाई भत्ते में वृद्धि की मांग कर रहे हैं। प्रदेश सरकार द्वारा कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में अभी तक वृद्धि नहीं हुई जबकि केंद्र सरकार ने एक बार फिर कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़ाकर 50 फीसदी कर दिया है जिसके बाद राज्य का कर्मचारी संगठन सरकार से काफी नाराज है। 

केंद्र से 8 फीसदी पीछे 12 लाख कर्मचारी  

केंद्र के मुकाबले मध्य प्रदेश राज्य के 12 लाख सरकारी कर्मचारी पूरा 8 फीसदी पीछे हो गए हैं केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते से। यदि तुलना की जाए तो मौजूदा समय में मध्य प्रदेश के 12 लाख कर्मचारियों को 42 फीसदी महंगाई भत्ता मिल रहा है जबकि केंद्र सरकार की तरफ से गुरुवार 7 मार्च को केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 4 फीसदी की वृद्धि करके उसको 50 फीसदी कर दिया गया है। 

इसे भी पढ़ें –   मुख्यमंत्री मोहन यादव ने ग्वालियर से किया ऐलान, मजदूरों को मिलेंगे 1200 रुपये

कर्मचारियों ने की एक साथ 8 फीसदी की मांग  

जहाँ कुछ दिन पहले तक मध्य प्रदेश कर्मचारी संगठन प्रदेश सरकार से महंगाई भत्ते में 4 फीसदी की वृद्धि की मांग कर रहे थे वहीं अब उनकी मांगे केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी के बाद से और बढ़ गई हैं। राज्य के 12 लाख कर्मचारियों ने सरकार से अब एक साथ 8 फीसदी महंगाई भत्ते को बढ़ाने की मांग की है क्योंकि उनका कहना है कि एक ही शहर में केंद्र और राज्य के कर्मचारी रहते हैं जो की एक समान महंगाई से जूझ रहे हैं इसलिए सबका महंगाई भत्ता भी एक समान होना चाहिए। 

Author

  • Srajan Thakur

    मेरा नाम सृजन है और मुझे लिखना काफी पसंद है। मैं एक जिज्ञासु वक्तितित्व का हूँ इसलिए मैं सम्पूर्ण विषयों के ऊपर लेख लिखने में सक्षम हूँ। में एक पूर्ण रूप से लेखक कहलाता हूँ।

Leave a Comment

Your Website